Published On : Tue, May 20th, 2014

ब्रम्हपुरी : गुंठेवारी प्रकरण में एक और गिरफ्तार


पेट्रोलपंप की जगह का विवाद

ब्रम्हपुरी

raamu Mehre
ब्रम्हपुरी – नागभीड़ मार्ग पर स्थित साईं पेट्रोलपंप की विवादित जगह सन 2005 में रवी भैंसारे व साथियों ने नकली दस्तावेज़ तैयार कर साथ ही अधिकारियों के साथ मिलीभगत से ज़मीन की बिक्री कर दी. ज़मीन के मूल मालिक के शराब के आदि होने का नाजायज़ फायदा उठाते हुए रवी भैंसारे व साथियों ने ये सब किया है ऐसा आरोप करते हुए आर ही मोहन रामटेके की पत्नी कुंदा रामटेके ने न्यायालय का दरवाज़ा खटखटाया था. मामले की पुलिस जांच ख़त्म होने के बाद मंगलवार को आरोपी रामु मेहेर को पुलिस ने हिरासत में लिया है.

ख्रिस्तानंतर चौक से देलन्वादी के बीच ब्रम्हपुरी – नागभीड़ मार्ग पर प्लाट क्रमांक 64/1 (0.62 हेक्टर ) जो आर ही मोहन रामटेके की है उसे 2005 में रवि भैसारे और रामु मेहेर व आनंदराव लंबत ने खरीदी थी. इस ज़मीन के विवाद का मामला न्यायालय में चल रहे होने के बावजूद सरकारी अधिकारियों की मदत से नकली दस्तावेज़ पेश कर एक प्रतिष्ठित व्यवसाई को उन्होंने ज़मीन बेच दी थी. मोहन रामटेके की पत्नी कुंदा रामटेके की अर्ज़ी पर कदम उठाते हुए न्यायालय ने रवी गणपत भैंसारे के साथ 15 लोगों के खिलाफ जांच और उनपर गुनाह दाखिल करने के आदेश दिए. न्यायालय के आदेश के अनुसार आरोपियों पर 420, 466, 468, 472, 220 कलम के तहत मामला दर्ज़ किया गया और उपविभागीय अधिकारी, ब्रम्हपुरी इनके पास जांच के लिए मामला सौंपा गया। मंगलवार को इस मामले में एक आरोपी रामु मेहेर की गिरफ्तारी हुई है. अब और कितने लोगों को इस मामले में गिरफ्तार किया जाता है इसपर सबकी नज़र है. गौरतलब है की इस मामले में तत्कालीन तलाठी अतकरे इनको व विद्यमान उपविभागीय अधिकारी को कुछ दिन पहले ही निलंबित किया गया है.