Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Sun, May 4th, 2014
    Vidarbha Today | By Nagpur Today Nagpur News

    बडनेरा : दो मकानों में डकैती, दम्पत्ति को घायल किया

    अमरावती.

    इस बार बडनेरा स्थित साईंनगर के आकोली रोड पर स्थित चंदन नगर और साईंकृपा कॉलोनी में शनिवार को तड़के नकाबपोश डकैतों ने दो मकानों में डाका डालकर हजारों रुपए का माल लूट लिया. डकैती की इस घटना में एक दम्पति द्वारा प्रतिरोध करने पर उन्हें डकैतों ने मार-पीट कर घायल कर दिया. इस घटना से पुलिस महकमा एक बार फ़िर सदमे में है.
    पुलिस सूत्रों के मुताबिक चंदन नगर के निवासी रामचंद्र पुंडलिक भालेराव (64) नामक व्यक्ति विद्युत विभाग के सेवानवृत्त कर्मचारी के घर डकैतों ने धावा बोला. वे अपनी पत्नी अलका और बेटे प्रयाग (20) के साथ घर में सोए थे. देर रात 2.25 बजे के दौरान मकान के पीछे की दीवार फांदकर पांच नकाबपोश उनके घर में दरवाजा तोड़कर घुस आए. बेडरूम में सोए इस परिवार के सदस्यों में से अलका भालेराव की आंखें खुल गई. नकाबपोशों को देख उन्होंने चीखना शुरू किया. तब डकैतों ने उन पर हमला कर गले का 7 ग्राम का सोने का मंगलसूत्र भी छीन लिया. पति रामचंद्र द्वारा डकैतों को रोके जाने और एक नकाबपोश को पकडने की कोशिश करने पर इन डकैतों ने उस पर लोहे के पाइप से हमला कर गंभीर रूप से घायल कर दिया. बेटा प्रयाग डकैतों से घबरा गया.

    डकैतों ने 4 हजार रुपए नगद और मोबाइल सहित आलमारी में से चार एटीएम कार्ड लिए और अन्य कुछ बरामद न होने पर भालेराव परिवार को घर के बाहर निकलने पर जान से मारने की धमकी देने के बाद पड़ोस की साईंकृपा कॉलोनी में रहने वाले अशोक रूपराव डांगरे (53) के घर में घुस गए. डांगरे अकेले ही घर में थे. डकैतों ने बेडरूम में लगे कूलर के पानी में बेहोशी की दवा मिला दी, जिससे वे गहरी नींद में ही सोए रहे. डकैतों ने उसके घर से 400 ग्राम चांदी और 3500 रुपए मूल्य का मोबाइल चुरा लिया. इसके बाद डकैत वहां से भाग निकले. डकैतों का यह आतंक क्षेत्रमें आधे घंटे तक चला.

    भालेराव परिवार ने घटना की जानकारी पुलिस को दी. थानेदार ज्ञानेश्‍वर कडू, क्राइम ब्रांच के निरीक्षक प्रमेश आत्राम अपने दल के साथघटनास्थल पर पहुंचे. जख्मी रामचंद्र भालेराव को तत्काल अस्पताल ले जाया गया. सुबह सहायक आयुक्त साखरकर और उपायुक्त सोमनाथघार्गे भी घटनास्थल पहुंचे. फिंगरप्रिंट एक्सपर्ट व श्‍वानपथक को भी बुलाया गया, लेकिन पुलिस को भालेराव के यहां से लूटे हुए मोबाइल के दो सिमकार्ड, चार एटीएम कार्ड के अलावा कुछ नहीं मिला. डकैती का मामला दर्ज कर जांच शुरू की गई है.

    अमरावती में लगातार हो रही छोड़ी और डक़ैती से नागरिकों में पुलिस की निष्क्रियता से नाराजगी बढ़ रही है.

    Pic-4

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145