Published On : Fri, Apr 18th, 2014

नागपुर: तड़ीपार पर दागी गोली, आरोपी का सुराग नहीं

kamalchowknagpurfiring

नागपुर न्यूज़ : आवले बाबू चौक में किसी अज्ञात आरोपी ने वाडी क्षेत्र के तड़ीपार पर गोली दाग दी। घटना दिनदहाडे होने से परिसर में सनसनी फैल गई। घायल रोशन देवीदास कांमडे (32) को किसी अपरिचित व्यक्ति ने घायल अवस्था में कमाल चौक स्थित मदन अस्पताल में भर्ती कराया।

अस्पताल के डॉ टरों ने बताया कि गोली उसकी कमर के नीचे बाएं पैर में लगी है। ऑपरेशन कर गोली को निकाल दिया गया है। पांचपावली पुलिस रोशन से पूछताछ कर रही है। पुलिस को खुद भी घटनास्थल के बारे में संभ्रम है। पता चला है कि आरोपी को वाडी से चुनाव से कुछ दिन पहले ही वर्धा जिले में दो वर्ष के लिए तडीपार किया गया है। वह कमाल चौक के पास आवले बाबू चौक में किसी दोस्त से मिलने आया था। देवीदास कांमडे सम्राट अशोक नगर आठवां मील में रहते हैं।

सेवानिवृा देवीदास कांमडे डिफेंस कंपनी में वेल्डर का काम करते थे। परिवार में तीन बेटियां और इकलौता बेटा रोशन है। रोशन पर किसी एस. मिश्रा उर्फ सरदार नामक युवक की हत्या करने का मामला दर्ज है। इस मामले में वह जेल की भी हवा खा चुका है। उस पर पाटील नामक युवक की हत्या के प्रयास का भी मामला दर्ज है। रोशन को हाल ही में गिरतार कर उसे जिले से वर्धा शहर में तडीपार किया गया है।

शुक्रवार को रोशन अपने किसी दोस्त से मिलने आवले बाबू चौक पर बुलाया था। वह दोपहर करीब दो बजे दोस्त से मिलने पहुंचा। इस दौरान एक आरामशीन के पास घात लगाकर बैठे अज्ञात आरोपी ने रोशन पर गोली दाग दी। गोली उसके बाएं पैर में घुटने के ऊपर लगी है। रोशन को अस्पताल में किसी ने लाकर भर्ती कराया और गायब हो गया।

डा. राजेंद्र बघे, डा. कन्हैया चांडक ने उसके पैर से गोली निकाली। वह अब खतरे से बाहर है। फिलहाल पुलिस रोशन से उस पर गोली दागने वाले के बारे में देर रात तक पूछताछ कर रही थी। पुलिस के लिए बनी अबूझ पहेली मदन अस्पताल के डा टर बघे ने पांचपावली पुलिस को रोशन के बारे में जानकारी दी कि उनके अस्पताल में एक युवक को लाया गया है। उसके बाएं पैर में कमर से नीचे के हिस्से में गोली फंसी है। पांचपावली पुलिस ने वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को जानकारी दी। उसके बाद सहपुलिस आयुक्त संजय स सेना, अतिरिक्त पुलिस आयुक्त पांडे सहयोगियों के साथ अस्पताल पहुंचकर घटना का जायजा लिया।

यह मामला पांचपावली पुलिस के लिए अभी भी अबूझ पहेली बना है कि आखिर रोशन पर गोली कहां चलाई गई। हालांकि पुलिस आवले बाबू चौक के पास एक आरामशीन के सामने पहुंचकर खोजबीन कर रही थी।