Published On : Fri, Apr 18th, 2014

नवेगांव बांध: सर्विस रोड तक हड़प लिया ले-ऑऊट संचालकों ने


ले-ऑऊट राज्य महामार्ग पर स्थित, प्रशासन चुप

नवेगांव बांध.

सानगढ़ी – चिचगढ़ रोड पर मौजा नवेगांव बांध में खसरा नंबर 1168/4 में बनाए गए ले-ऑऊट में संचालकों ने सर्विस रोड तक को हड़प लिया है. इस ले-ऑऊट में कुल 11 प्लॉट बेचे गए हैं. ले-ऑऊट में प्लॉट खरीदने वालों ने निर्माणकार्य भी शुरू कर दिया है. मजे की बात यह है कि राज्य महामार्ग होने के बावजूद प्रशासन मूकदर्शक बना हुआ है.

नियमों की उड़ाई धज्जियां

इस संबंध में करीब 8 प्लॉटधारकों ने शिकायत की है. इस ले-ऑऊट में कुल 11 प्लॉट हैं और सभी किसी रविंद्र मोहबंशी के नाम पर रजिस्टर्ड हैं. ले-ऑऊट के बाजू से गुजरने वाले महामार्ग की सीमा रास्ते के मध्य भाग से करीब 40 मीटर तक है. नियमानुसार इस सीमा के भीतर कोई भी कच्चा या पक्का निर्माणकार्य नहीं किया जा सकता. संचालक मोहबंशी ने ले- ऑऊट के नक़्शे में 12 मीटर चौड़ा एक सर्विस रोड भी दिखाया है. संचालक ने जिन लोगों को प्लॉट बेचा है, उनसे पैसा प्लॉट और सर्विस रोड का लिया गया, लेकिन रजिस्ट्री सिर्फ प्लॉट की ही की गई.

निर्माणकार्य भी शुरू 

इस जगह पर प्लॉट खरीदने वाले कुछ लोगों ने निर्माणकार्य भी शुरू कर दिया है. जाहिर है कि इस प्लॉट की खरीदी व्यावसायिक कारणों से ही की गई है. अलावा इसके प्लॉट के नक़्शे में 9 फुट के रास्ते दिखाए गए हैं, मगर वास्तव में रास्ते हैं  7 फुट के ही. अनेक स्थानों पर नक़्शे में दिखाए गए प्लॉट और बेचे गए प्लॉट के क्षेत्रफल में भारी अंतर है.

ये हैं शिकायत करनेवाले प्लॉटधारक 

जिन 8 प्लॉटधारकों ने शिकायत की है उनमें राजेंद्रसिंह चव्हाण, दत्ताजी संग्रामे, घनश्याम गहाने, कमलेश शाहू, भागवत कोल्हे, तुरशीकला मरसकोल्हे, मीनाक्षी राउत, एन. जे. राउत शामिल है. अब देखना ये है कि प्रशासन क्या कार्रवाई करता है और उसकी चुप्पी कब टूटती है.

File Pic

File Pic