Published On : Tue, Jun 10th, 2014

चिमूर : चिमूर जिला निर्मिती को ठेंगा !


चिमूर

चंद्रपुर जिले का विभाजन करके क्रांतिभूमि चिमूर वही गडचिरोली जिले का विभाजन करके अहेरी यह नया जिला निर्माण किया जाए ऐसी मांग गत अनेक वर्षों से हो रही है. मात्र इस मांग की तरफ ध्यान नहीं दिया जा रहा है. अभी ही राज्य के महसूल मंत्री बालासाहेब थोरात ने कोकण विभाग के मुंबई के समीप के ठाणे जिले का विभाजन किया जाएगा, ऐसी घोषणा विधानपरिषद में की और विदर्भ की मांगो को नजअंदाज़ कर सौतेला व्यवहार किए जाने की बात की जा रही है.

चिमूर को तुरंत जिले का दर्जा दिया जाए, ऐसी मांग की जा रही है. गत कुछ वर्षों पूर्व तत्कालीन महसूल मंत्री नारायण राणे व विद्यमान विधायक चिमूर को जल्द ही जिल्हे का दर्जा देंगे ऐसा आश्वासन दिया था. लेकिन उनका आश्वासन कभी पूरा नहीं हुआ. इस दौरान मुख्यमंत्री ने चिमूर को जिले का दर्ज देने के बजाए नगर परिषद किया जायेगा ऐसी घोषणा एक कार्यक्रम में की थी. मात्र नगर परिषद ना करते हुए नगर पंचायत का दर्जा दिया गया.

गडचिरोली नक्सलग्रस्त जिला है. इस जिले में अहेरी उपविभाग नक्सली कार्रवाई के दृष्टी से संवेदनशील है. यह बात ध्यान में रखकर राज्य के गृहमंत्रालय ने स्वतंत्र अहेरी जिला तीन वर्ष पूर्व घोषित किया. लेकिन महसूल प्रशासन इस के बारें में उदासीन है. जिला निर्माण करने के बदले अहेरी को अतिरिक्त जिलाधिकारी दिया गया व जिला निर्मिती की मांग ख़ारिज करने की मांग सरकार की तरफ से शुरू है.

आजतक कईबार अहिंसात्मक मार्ग से आंदोलन करके जिला निर्मिती की मांग विविध राजनैतिक पक्ष व सामजिक संघटनाओं की ओर से की गई. लेकिन सरकार की ओर से सकारात्मक प्रतिसाद नहीं मिला जिससे जिला निर्मिति की मांग कर रहे लोगों में असंतोष है.

chimur map