| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Thu, Feb 20th, 2014
    Vidarbha Today | By Nagpur Today Nagpur News

    खापरखेड़ा: २० कर्मी से कम में काम करने वाले ठेकेदारो को कर्मचारी राज्य बीमा निगम (क॰रा॰बी॰नि॰) अनिवार्यता से मिली राहत

    स्वाभिमानी नेतृत्व के कारण महावितरण के ठेकेदारो को मिला न्याय ,लगभग १०० छोटे ठेकेदारो में ख़ुशी की लहर 

    ssaonernews

    नागपुर के सावनेर तहसील खापरखेड़ा क्षेत्र में राज्य सरकार की विद्युत् महनिर्मिती इकाई है,जहाँ पिछले ३-४ साल से अतिरिक्त ऊर्जा निर्मिति हेतु प्रकल्प विस्तार का काम तेजी से चल रहा है.यहाँ १०० से अधिक छोटे – बड़े ठेकेदार निर्माण कार्य में जुटे है.इनमे से १० % ठेकेदार बड़े है जिनके पास २० से अधिक तकनिकी-गैरतकनीकी कर्मचारी कार्य कर रहे है.

    राज्य महनिर्मिती प्रबंधन ने सभी ठेकेदारो के लिए एक फतवा जारी कर सभी ठेकेदारो को निर्देश दिया कि सभी ठेकेदार अपने कर्मियो का क॰रा॰बी॰नि॰ (esic) सुविधा हेतु अनिवार्यता की.इस अनचाहे फतवे से परेशान होकर स्थानीय स्वाभिमानी कॉन्ट्रैक्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष व शिवसेना नेता अशोक झिंगरे ने महावितरण के चीफ जनरल मैनेजर को पत्र लिखकर जानकारी दी कि खापरखेड़ा विद्युत् केंद्र में अधिकांश ठेकेदार निविदा पद्दति से काम करते थे लेकिन वर्त्तमान में इ-टेंडरिंग पद्दति शुरू किया गया.इसके तहत esic का पंजीयन बंधनकारक किया गया.नागपुर विभागीय esic कार्यालय के अनुसार २० से अधिक ठेके पद्दति में काम करने वालो को ही esic का पंजीयन किया जाता है.

    अशोक झिंगरे ने उक्त नियम के तर्ज पर महावितरण के अधिकारी वर्ग महावितरण द्वारा जबर्दस्ती जारी किया गया फतवा यानि सभी ठेकेदारो को उनके कर्मियो का क॰रा॰बी॰नि॰ की अनिवार्यता रद्द कर सिर्फ २० से अधिक कर्मियो से काम करने वाले ठेकेदारो पर क॰रा॰बी॰नि॰  पंजीयन की अनिवार्यता कायम रखे अन्यथा तीव्र आंदोलन किया जायेगा। महावितरण के इस अड़ियल रवैये से लगभग १०० छोटे-छोटे ठेकदार प्रभावित हो रहे थे.

    सावनेर क्षेत्र के बेरोजगारो को रोजगार में आ रही बाधा को गम्भीरता से लेते हुए स्थानीय विधायक सुनील केदार ने स्वाभिमानी कॉन्ट्रैक्टर्स एसोसिएशन के शिष्टमंडल की महत्वपूर्ण मीटिंग विंटर सेशन ख़त्म होने के एक दिन पहले महनिर्मिती के मैनेजिंग डायरेक्टर से करवाई,उन्होंने स्वाभिमानी कॉन्ट्रैक्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष व शिवसेना नेता अशोक झिंगरे से चर्चा कर सकारात्मक आश्वासन दिया और गत दिनों स्वाभिमानी कॉन्ट्रैक्टर्स एसोसिएशन की मांग को जायज ठहराते हुए २० से कम  कर्मियो से काम करने वाले ठेकेदारो पर esic पंजीयन की अनिवार्यता में राहत प्रदान की,स्वाभिमानी कॉन्ट्रैक्टर्स एसोसिएशन के पहल पर महनिर्मिती के मैनेजिंग डायरेक्टर का सकारात्मक निर्णय पर लगभग १०० छोटे ठेकेदारो में ख़ुशी की लहर देखने लायक है.

    ई-टेंडर से स्थानीय युवा हो रहे बेरोजगार

    स्वाभिमानी कॉन्ट्रैक्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष व शिवसेना नेता अशोक झिंगरे ने महनिर्मिती के मैनेजिंग डायरेक्टर का ध्यानाकर्षण करवाया कि ई-टेंडरिंग पद्दति से प्रत्येक काम में बाहरी ठेकेदार का अतिक्रमण हो रहा है.इसलिए ३ लाख से नीचे के कार्य स्थानीय ठेकेदारो को ही दिया जाये,जिससे स्थानीय बेरोजगारी पर रोक और उनको काम मिलेगा।  अशोक झिंगरे ने इस मांग पर स्थानीय विधायक केदार को उक्त मांग में सकारात्मक सहयोग की अपेक्षा की है.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145