Published On : Wed, Jul 2nd, 2014

कोराडी : विधायक बावनकुले बने श्री महालक्ष्मी जगदंबा संस्था के विश्वस्त


संस्था के 10 ट्रस्टी ने दिखाया विश्वास

कोराडी

Vidhayak Bawankule
विधायक चन्द्रशेखर बावनकुले ने श्री महालक्ष्मी जगदम्बा संस्थान के विश्वस्त चुने जाने पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा की माँ जगदम्बा की सेवा करना विधायक होने से बडी ज़िम्मेदारी ओर सम्मान की बात है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार,चुनाव प्रक्रिया मंगलवार सुबह से शुरू थी जिस में संस्था के दस विश्वस्त बाबुराव भोयर, दयाराम तडस्कर, केशवराव फुलझेल, एड.जी.डी. चन्ने, दल्लु समरितकर, सुधारकारराव रेवतकर, बी.जे. लांडे, स्वामी निर्मलानंद महाराज, डॉ. नंदिनी त्रिपाठी, एड. मुकेश शर्मा ने मतदान किया. सब के सहकार्य से ही विधायक बावनकुले संस्था के विश्वस्त बन सके. उन्होंने संस्था के विश्वस्त बनने के लिए अर्जी प्रस्तुत की थी. अर्जी में उन्होंने बताया की उनका जन्म रावसाल गाव में हुआ और 1977 से कोराडी में स्थायी है. उनकी प्रथिमिक शिक्षा सेवानंद विद्यालय में तथा 11 और 12 वी विद्यामंदिर हायस्कूल से हुआ है. उसी परिसर में वे पूजा अर्चना करते थे और साथ ही उन्होंने छोटी किरना की दुकान खोली व वे वहा खुद काम करते थे.

इस उपलक्ष पे उनकी पत्नी सौ. ज्योति बावनकुले, भाई बापू बावनकुले तथा सारा परिवार उपस्तिथ था. बावनकुले ने पत्रकारों को बताया की वे माँ जगदम्बा के आशीर्वाद की वजह से ही विधायक बने तथा आज विश्वस्त बन के माँ के सेवक बने है.ट्रस्टी ने उन् पर जो विश्वास किया है उसको कभी टूटने न देने की बात भी उन्होंने कही.

बावनकुले ने कहा की वे- मंदिर के विकास के लिए निधी लाएंगे तथा मंदिर परिसर का सौंदर्यकरण करवाएंगे. इसके अलावा मंदिर के लिए जो काम किए जाएंगे उसका ब्यौरा इस प्रकार है.
-मंदिर परिसर में सारी सुविधा पूर्ण हॉस्पिटल बनवाने की भी बात की.
-मंदिर परिसर के म्यूजियम को विदर्भ का पहले क्रमांक का म्यूजियम बनाएंगे.
-सारे काम ट्रस्ट के नियम अंतर्गत ही किये जायेंगे.
-सारे ट्रस्टी को विश्वास में ले कर ही काम किये जायेंगे.
-संरक्षण विभाग का सर्वे क्र 164, 165 की 7.5 हेक्टर जमीन विवाद हाई कोर्ट में है मालिकाना हक़ के लिए हम जल्द ही दावा करेंगे.
-मंदिर परिसर के दुकानदारों की रोज़ी रोटी के प्रश्न हल कीए जाएंगी.