Published On : Sat, Sep 13th, 2014

कोराडी कॉलनी से बोखारा गांव तक 2 किमी रोड का डांबरीकरण करे – पवन आवले


pawan awale
कोराडी (नागपुर)

महादुला,बोखारा,लोनारा परिसर की उपजाऊ जमीन बिजली निर्माण कंपनीयों ने आवास निर्माण के लिए संपादित की गई थी. लेकिन इस गांव के अंतर्गत आनेवाले रास्तों की दुर्दशा बेहद ख़राब हुई है. ई-टाइप से बोखारा गांव तक 2 किमी रास्ता ज्यादा ही ख़राब है. उसका डांबरीकरण महानिर्मिति के सामाजिक प्रतिबद्धता नीति से कराया जाए ऐसी मांग भारतीय जनता युवा मोर्चा संघ के जिला उपाध्यक्ष पवन आवले ने की है.

महाराष्ट्र सरकार पुनर्वसन अधिनियम-1999 के अनुसार गांव में जरुरी सुविधा, सामाजिक सभागृह, पिने के पानी की सुविधा, योग्य पुनर्वसन, रास्तों की मरम्मत आदि 16 प्रकार के रुचियाँ समाविष्ट है. सन 1997 में बोखारा गांव कामठी विस क्षेत्र में था, उस दौरान तत्कालीन जिप सदस्य बावनकुले के प्रयत्न से कोराडी से बोखारा मार्ग के लिए आंदोलन किया था और तत्कालीन मंत्रीयों ने रास्ते का निर्माणकार्य शुरू किया था. लेकिन अभी रास्ते पर जगह-जगह खड्डे पड़े है. इस मार्ग से स्कूल के बच्चे, किसान आदि रोज आवागमन करते है. राहगीर भी दुर्घटना में अपाहिज हुए है.

महानिर्मिती ने अपनी जिम्मेदारी निभाकर कोराडी ई-टाइप से बोखारा गांव तक मार्ग का निर्माण करे ऐसी मांग भाजयुमो के उपाध्यक्ष नागपूर( जिला.ग्रा) पवनभाऊ आवले ने की है.