Published On : Thu, Jul 3rd, 2014

कोराडी : अब जवाहरनगर में लगेगा महादुला का साप्ताहिक बाजार


जगह हस्तांतरित, नागरिकों की बरसों पुरानी मांग पूरी


कोराडी

mahadula
महादुला के जवाहरनगर से सटी महानिर्मिती (बिजलीघर) कोराडी की बरसों से पड़ी निरुपयोगी जगह पर अब महादुला का साप्ताहिक बाजार लगा करेगा. सर्वे क्रमांक 23/1 की कुल 4.66 हेक्टेयर जमीन आज ही महानिर्मिती ने महादुला  नगर पंचायत को हस्तांतरित कर दी. अब तक यह साप्ताहिक बाजार नागपुर-ओबेदुल्लागंज महामार्ग क्र. 61 पर लगा करता था, जो किसी भी दृष्टि से खतरे से खाली नहीं था.

महामार्ग पर बाजार
दरअसल, महादुला के नागरिक बरसों से महामार्ग पर लगने वाले इस बाजार को किसी उपयुक्त जगह पर स्थानांतरित करने की मांग कर रहे थे. भारी चहल-पहल वाले इस महामार्ग पर बाजार लगने से कई बार दुर्घटनाएं भी हो चुकी थीं और जिनमें कई जानें भी जा चुकी थीं. इस क्षेत्र के विधायक चंद्रशेखर बावनकुले इस मुद्दे पर महीनों से कोशिश कर रहे थे.

बरसों का इंतजार हुआ खत्म
महादुला प्रकल्प बाधित गांव है. कोराडी स्थित बिजलीघर ने खेल का मैदान, बगीचा और बाजार के लिए कोई जगह छोड़ी ही नहीं थी. विधायक बावनकुले ने इस मुद्दे को विधानसभा तक में उठाया और कोराडी बिजलीघर से सुरक्षित जगह बाजार के लिए देने की मांग की. जिलाधीश, तहसीलदार, पटवारी के दरबार तक में इस मामले को लेकर हाजिरी लगाई. आखिर महादुला ग्राम पंचायत के नगर पंचायत में तब्दील होने के बाद वह घड़ी आई, जिसका यहां के नागरिक बरसों से इंतजार कर रहे थे. इंतजार खत्म होने पर नागरिकों के चेहरे पर खुशी छलक पड़ रही थी.

mahadula 2
जगह विधिवत हो गई महादुला की

उक्त जमीन की नापजोख के लिए नगर पंचायत ने आज ही 2.64 लाख रुपए भूमि अभिलेख निरीक्षक के पास जमा करा दिए. इसी के साथ बिजलीघर की जमीन विधिवत
रूप से महादुला को देने का फैसला हो गया. इस अवसर पर महानिर्मिती कोराडी के सहायक अभियंता कटरे, कनिष्ठ अभियंता मिलिंद पाठक, नापजोख के लिए तहसील
कार्यालय से आए अंकुरवार, महादुला नगर पंचायत की अध्यक्ष कांचन कुथे, नगर उपाध्यक्ष राजेश रंगारी, भाजपा के गुट नेता रामबाबू तोडवाल, नगरसेवक रत्नदीप रंगारी, विलास तभाने, नलिनी धुलस, संगीता भोंगाड़े, चंदू टेकाम, दुर्गा जैस्वाल, ज्योति उजवणे, शब्बीर शेख, भाऊराव गोमासे, राजेश मछले, धनंजय भालेराव, शांताबाई सोनवाणे, सरस्वती लांडगे (सभी नगरसेवक), सामाजिक कार्यकर्ता ज्ञानोबा सोनवाणे, यादव रंगारी. अशोकराव कुथे, महेंद्र गुप्ता, सिद्धार्थ शेंडे, निखिल माकोड़े, किशोर शर्मा सहित भारी
संख्या में गांव के नागरिक उपस्थित थे.