Published On : Fri, Jul 11th, 2014

काटोल में खुलेगा अद्यतन ग्रंथालय


राज्य के खाद्यान्न एवं नागरी आपूर्ति मंत्री अनिल देशमुख की घोषणा


विद्यार्थियों, गणमान्य लोगों का सत्कार किया गया


काटोल

sudhir bute & anil deshmukh
इस क्षेत्र में वसंतराव देशमुख प्रतिष्ठान के माध्यम से एक अद्यतन ग्रंथालय बनाया जाएगा, ताकि विद्यार्थियों के साथ ही अन्य लोगों को भी किताबें पढ़ने की सुविधा उपलब्ध हो सके. यह घोषणा आज यहां इस क्षेत्र के विधायक और राज्य के खाद्यान्न एवं नागरी आपूर्ति मंत्री अनिल देशमुख ने की.

11 जुलाई को स्थानीय जायसवाल मंगल कार्यालय में आयोजित गुणवंत विद्यार्थियों और अन्य सफल लोगों के सत्कार समारोह में वे बोल रहे थे. इस अवसर पर प्रमुख अतिथि के रूप में बापूराव सातपुते, मराठा लांसर्स के अध्यक्ष प्रदीप देशमुख, अखिल भारतीय खो-खो फेडरेशन के पूर्व उपाध्यक्ष अनूप खराडे, राष्ट्रवादी कांग्रेस के जिला पदाधिकारी चंद्रशेखर मानकर, नगरसेवक तथा राष्ट्रवादी कांग्रेस के शहराध्यक्ष गणेश चन्ने, तालुकाध्यक्ष दीपक मोहिते, नगरसेवक लक्ष्मी जोशी, जयंत टालाटुले, हेमराज रेवतकर, डॉ. संजय धोटे, राष्ट्रवादी विद्यार्थी कांग्रेस के जिलाध्यक्ष अमित काकड़े, संदीप ठाकरे आदि उपस्थित थे.

250 गुणवंत विद्याथिर्यो का सत्कार
वसंतराव देशमुख प्रतिष्ठान और राष्ट्रवादी विद्यार्थी कांग्रेस के संयुक्त तत्वावधान में कक्षा 10 वीं और 12 वीं के 250 उत्कृष्ट (प्रावीण्यता प्राप्त) विद्याथिर्यों, क्रीड़ा, कला क्षेत्र में उल्लेखनीय सफलता हासिल करने वाले खिलाड़ी, क्रीड़ा प्रशिक्षक के साथ ही तालुका के माध्यमिक स्कूलों के मुख्याध्यापकों को शाल-सम्मान चिन्ह और भेंट-वस्तु देकर सत्कार किया गया. इस मौके पर अतिथियों ने समयोचित मार्गदर्शन किया.

anil deshmukh
प्रास्ताविक भाषण अमित काकड़े ने और संचालन तारकेश्वर सावरकर तथा अमित खांडेकर ने संयुक्त रूप से किया. आभार प्रदर्शन नगरसेवक गणेश चन्ने ने किया. कार्यक्रम की सफलता के लिए सौरभ ढोले, विपुल पाठे, रोशन झलके, अतुल नेहारे, नितिन चालखोर, रुपेश नाखले, गणेश ठाकरे, निलेश दाहाट, महेश येरपुड़े, पंकज राउत सहित पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं ने प्रयास किया.

ईशा बाविस्कर बनीं काटोल रत्न
चित्रकला के माध्यम से राष्ट्रीय स्तर पर काटोल नगर का नाम रोशन करने वाली ईशा भगवान बाविस्कर को ‘काटोल रत्न’ पुरस्कार से सम्मानित किया गया. इस अवसर पर क्रीड़ा प्रशिक्षक के रूप में कार्य करनेवाले प्रदीप देशमुख (कबड्डी), प्राचार्य डॉ. विजय धोटे (मैराथान), अशोक राउत (वॉलीबॉल), अनिल धांडे और अनूप खराडे (दोनों खो-खो), अनिल कोठे, प्रा. तेजसिंह जगदले (कबड्डी), सुधीर बुटे और उज्जवल मोटघरे (थ्रो बॉल), प्रभाकर भस्मे और मुकेश ठाकरे (कराटे), सचिन वालके (योगासन) अािद को सम्मानित किया गया.