Published On : Wed, Jul 23rd, 2014

उमरखेड़ : विदर्भ में प्रथम मराठा आरक्षण के तहत जाति प्रमाण- पत्र का वितरण


उमरखेड़

maratha arakshan ukd
पिछले अनेक दिनों से मराठा समाज को आरक्षण मिल सके इसके लिए मराठा सेवा संघ, संभाजी ब्रिगेड ने राज्य सरकार से कड़ा संघर्ष किया जिसके फलस्वरूप मराठा समाज को आरक्षण मिल सका हे. सर्वप्रथम राज्य में मराठवाड़ा में हिंगोली के बाद दूसरे क्रमांक में विदर्भ के उमरखेड़ में 22 जुलाई को आरक्षण प्राप्त मराठा जाति के प्रमाण-पत्र 15 विद्यार्थियों को दिए गए.

जाति प्रमाण-पत्र वितरण कार्यक्रम उमरखेड़ तहसील कार्यालय में रखा गया. कार्यक्रम अध्यक्ष विभाग के विधायक विजयराव खडसे थे जबकि प्रमुख अथिति के रूप में उपविभागीय अधिकारी राजेश पारनाईक,तहसीलदार सचिन शेजाल , तहसील काँग्रेस कमेटी के अध्यक्ष दतराव शिंदे, संभजी ब्रिगेड के जिला अध्यक्ष गुणवंत सूर्यवंशी, जिजाऊ बिग्रेड के जिला उपाध्यक्ष डॉ वंदना कदम, संभा जी ब्रिगेड के पदाधिकारी एड राजू पाटिल, शिवाजी माने , शिवजी वानखेड़े, न. प. बांधकाम सभापति बालाजी देशमुख, संचालक प्रेम राव वानखेड़े, युवक काँग्रेस पदाधिकारी सोनू खातीव, उपसरपंच रहमत खान पटेल, नायब तहसीलदार राजेश चव्हाण प्रमुख रूप से उपस्थित थे

इस समय विधायक विजय खडसे के हाथों जाति प्रमाण पत्र पूर्ण कर दाखिल किये गए. इस समय नेहा कापसे, राहुल जाधव, सपना चंद्रवंशी, आशीष माने , स्वप्नील राजेश, संतोष, सतीश, विशाल, सुधीर कदम, जाधव, अक्षय, अविनाश आसोले आदि लोगों को प्रमाणपत्र वितरित किये गए.

उलेखनीय हे की मराठा जाति आरक्षण दिए जाने का मुद्दा सन 2004 से संभाजी ब्रिगेड द्वारा उठाया जाता रहा हे परन्तु अब इस संघर्ष को सफलता मिल सकी है इससे मराठा समाज को नौकरी और शैक्षणिक क्षेत्र में सुविधाये मिल सकेंगी ऐसे उदगार गुणवंत सूर्यवंशी द्वारा व्यक्त किये गए.