Published On : Mon, Feb 17th, 2014

आमगाव्: कंडगीपार रेल मार्ग को उड़ान पुल का इंतज़ार

* हजारो  वाहन हो रहे बाधित। 

* १५ से २० मिनट्स से ज्यादा तक खड़े  रहना पड़ता है। 

* क्या इस चुनाव पूर्व हो पयेगा भूमिपूजन। 

Railway

रेल मार्ग की हृदय लाइन माने जाने वाली मुम्बई हावड़ा मुख्या रेल मार्ग पर स्थित आमगाव से गोंदिया कि और जानेवाले मार्ग पर ग्राम कंडदीपार स्थित रेलवे चौकी पर उडान पुल नही होने से वाहन चालको को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।  जनप्रतिनिधिओं कि ओर से अनदेखी से नागरिक एवम मार्ग के वाहन चालको मे रोष है।

गैरतलब है की २००६ में रेलवे चौकी पर उडान  पुल के निर्माण कार्य हेतु स्थानिक जगह का मुआयना भी किया जा चुका है। रेलवे मार्ग से प्रतिदिन तेज रफ़्तार से आने जाने वाले रेल गाड़ी में मुख्यता प्रथम गोंदीया कि ओर जाने वाली गाडियो में गेवरा रोड नागपुर ( शिवनाथ एक्स १८२३९ ) टाटा ईतवारी  ( पैसेंजर ५८१११ ), डोंगरगढ – ईतवारी ( पैसेंजर ६८७११ ) दुर्ग – ईतवारी ( पैसेंजर ६८९४१ ) शालीमार -एल टी टी ( कुर्ला एक्स १८०३० ) हावड़ा अहमदाबाद ( सुफा एक्स १२८३४) , रायपुर – ईतवारी ( पैसेंजर ५८२०५ ) , बिलासपुर – अमृतसर ( छत्तीसगड़ एक्स १८२३७), झारसुगुडा – गोंदिया ( पैसेंजर ५८११७ ) , बिलासपुर – नागपुर ( इंटरसिटी सुफा एक्स १२८५५ )  डोंगरगढ – गोंदिया ( पैसेंजर ६८७२८ ) का समावेश है।  व्

उसी प्रकार गोंदिया से दुर्ग की ओर जानेवाली गाडियो में ईतवारी – टाटा ( पैसेंजर ५८११२ ), नागपुर – बिलासपुर ( शिवनाथ एक्स १८२४० ) गोंदिया – झारसुगुडा (  पैसेंजर ५८११८ ), अमृतसर – बिलासपुर ( छत्तीसगड़ एक्स १८२३८ ) गोंदिया – दुर्ग ( पैसेंजर ६८७२४ ) नागपुर – बिलासपुर ( इंटर सुफा एक्स १२८५६ ) ईतवारी रायपुर ( पैसेंजर ५८२०६) , एल टी टी –  शालीमार ( एक्स १८०२९ ) ईतवारी – दुर्ग ( पैसेंजर ६८७४२) अहमदाबाद – हावड़ा ( सुफा एक्स १२८३३), तथा गोंदिया – डोंगरगड ( पैसेंजर ६८७४२), निज्जामुद्दिन – बिलासपुर ( एक्स ) व् गीतांजलि एक्स आदि ट्रेनो कि गुजरते वक़्त ८ से १० तक का समय लगता है।

इस रेल के मुख्यं मार्ग पर रेल्वे फाटक गिराने से वाहन चालको को काफी देर तक ट्रेन के गुजरने तक इंतज़ार करना पड़ता है! इससॆ स्कूल जाने वाले छात्रो के साथ -साथ  कार्यालय में जानेवाले कर्मचारियो को यह फाटक बंद रहने से समय पर अपने स्कूल कॉलेज व् कार्यालय में पहुचने में परेशानी का सामना करना पड़ता है. इस मार्ग में जानेवाली स्वास्त विभाग एम्बुलेन्स सेक्या भी बाधित होती है. रेल्वे मार्ग पर यात्री गाडियो के साथ – साथ सामान्य मालगाड़ियां भी अधिक प्रमाण में इस मार्ग से गुजरती है. इस मार्ग पर  उडान पुल बनाने की मांग क्षेत्रवासियो द्वारा करने पर जनप्रतिनिधिओं द्वारे अनदेखि की जा रही है.  उडान पुल की  मांग २००६ के सर्वे अनुसार २०१३ पूर्वं हो जाने तक ७ वर्ष बिल जाने के बावजूद जिल्हे के सांसद मारोतराव कोवासे, केंद्रीय मंत्री प्रफुल पटेल , विधायक राजेंद्र जैन , विधायक रामरतन राउत , पूर्व विधायक केशवराव् मानकर आदि जनप्रतिनिधिओं द्वारा इस ओर अनदेखी कि जा रही है.

जिल्हे के राष्ट्रीय रेल कमेटी सदस्य रमणकुमार मेठी झेड. आर. यू. सी. सी.  सदस्य भोत्या  गुप्ता , जिल्हाधिकारी डॉ. अमित सैनी, महारष्ट्र के मुख्यमंत्री, गृहमंत्री अदि विभागीय अधिकारी एवं जनप्रतिनिधिओं से इस ओर ध्यान देने की मांग जोर पकड़ रही है.

  विधायक रामरतन राउत  

विधायक रामरतन राउत  ने इसबात पर चर्चा में बताया की हमने कंडगीपार बाम्हणी व् सालेकसा के रेल्वे क्रासिंग पर उड़ान पुल हेतु केंद्र सरकार को पत्रव्यवहार कर समस्या से अवगत करवाया है।  इस ओर उनका पूरा ध्यान है।  साथ ही साथ केन्द्रिय मंत्री प्रफुल पटेल के सहयोग से इस समस्या को सुलझाने का उन्होंने आश्वासन दिया।