Published On : Wed, Feb 19th, 2014

आमगांव / देवरी: चीते की खाल के साथ दो गिरफ्तार

Advertisement

पुलिस उपविभागि अधिकारियों ने  की कारवाई

अंतराजीय  गिरोह के साथ हो सकते है आरोपिओ के तार

Tiger-Skin-1

Advertisement
Advertisement

आमगांव देवरी परिसर में बड़े पैमाने पर वन्यप्राणियों का शिकार कर के वन्यप्राणियो के शारीर के कुछ हिस्सो की तस्करी की जानकारी दिनों दिन वनविभाग को मिल रही थी  । गुप्त जानकारी के नुसार पुलिस के उपविभागीय अधिकारी अजय देवरे को ऐसी जानकारी मिलते ही उन्होने अपने टीम के साथ  आमगांव जंगल में छापा मारकर चीते के खाल के साथ दो आरोपियों को गिरफ्तार  कर लिया है। आरोपिओ मे प्रितेश अरुण गुप्ता  और उसका साथीदार कैलस मारुती फुंडे  बताये जा रहे है।   पुलिस ने इन् आरोपिओ को वनविभाग के हवाले कर दिया है ।

इस कारवाई  में   पुलिस  उपविभागीय अधिकारी अजय देवरे के  मर्गदर्शन में पुलिस इन्स्पेक्टर एम. आर. तरोले, पुलिस हवलदार प्रदीप तुडसकर,अनीस राठोड, सुभेद चंद्रिकापुरे, मनोज बहेकर,शैलेंद्र नंदेखर, राकेश परिहार, यादोराव गौतम,गंगाधर मेंढे इन्होन्हे  सहभाग दिया है ।

Tiger-skin-2

पुलिस ने आरोपियो को  वनविभाग को सोपा गया है।आगे की जाँच वन परिक्षेत्र  सहायक अधिकारी आर.जी. भांडारकर  के नेतृत्व में वन रक्षक एस.एस. पवार , जे.जी. खान, डी.एम. गौरे  कर रहे है। वनविभाग के अधिकारी यह भी जाँच कर रहे है कि इनके तार आंतरजिय  के गिरोह के साथ है की  नहीं । खबर लिखे जाने तक वनविभाग के अधिकारी किसी भी प्रकार कि जानकारी देने से बच रहे थे।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement