Published On : Thu, Apr 17th, 2014

आमगांव: खस्ताहाल सड़क से नागरिक त्रस्त

 

बारबार चेताने के बाद भी विभाग सुस्त 

कई दुर्घटनाओं का सामना करना पड रहा है    

Pic-6आमगांव.

पिछले 3 – 4 वर्षों से आमगांव ननसरी जिला परिषद के अंतर्गत आनेवाली सड़क खस्ताहाल हो चुकी है. इससे राहगीरों को एवं वाहन चालकों को काफी परेशानियों का सामना करना पड रहा है. इस संबंध में नागरिकों ने सांकेतिक उपोषण किया और शिकायत एवं निवेदन भी संबंधित अधिकारियों को दिया, परंतु इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है.

आमगांव से ननसरी मार्ग पर अनगिनत जगह-जगह गड्ढे पड़ गए हैं. गड्ढ़ों को अच्छी तरह से गिना जाए तो आंकडा हजारों के पार जा सकता है. सड़क पर डाला गया डांबर भी उखड गया है, इससे सड़क पर चलना मुश्किल ही नहीं, बल्कि नामुमकीन सा ही गया है. इस मार्ग से मध्यप्रदेश के ग्राम देवलगांव,परसोड़ी,बापडी के नागरिक भी आवागमन करते हैं. इस वजह से इस मार्ग का महत्व और भी बढ़ जाता है. क्यों की यह मार्ग दो राज्यों को जोड़ने का काम करता है.

परसोड़ी निवासी डॉ. जागेश्वर एस. उपराड़े ने बताया कि मार्ग के खस्ताहाल होने की वजह से मरीजों को काफी तकलीफें उठानी पड़ती हैं. विशेष तौर पर गर्भवती महिलाओं को स्वास्थ्य की जाँच के लिए आमगांव से गोंदिया आने जाने में काफी दिक्कते हो रही हैं. इसलिए विभाग को चाहिए कि इस मार्ग का नवीकरण जल्द कराये. इसी प्रकार ननसरी निवासी घनश्याम शाहरे ने कहा कि अधिकारियों से गुहार लगाते-लगाते 4 वर्ष बीत चुके हैं. आवागमन के वक्त दुर्घटना का भय बना रहता है. मार्ग निर्माण कार्य जल्द से जल्द करने की मांग उन्होंने भी की है.

Pic-7

इस मार्ग पर एसटी महामंडल की बस की सुविधा है भी तो सिर्फ स्कूल के बच्चों के लिए. वह भी मार्ग की खस्ताहाल से बंद-चालु बंद-चालु का खेल खेलने के लिए मजबुर है. इसके लिए परिसर के नागरिक संबंधित विभाग को ही जिम्मेदार मानते हैं. नागरिको के लिए बस सेवा भी नहीं है. इससे इस मार्ग पर यात्री अपने कार्य के लिए ऑटो से आमगांव आना-जाना करते हैं, लेकिन मार्ग की खस्ताहालत से ऑटो चालक भी कई बार दुर्घटनाग्रस्त हो चुके है. नागरिकों को आधे घंटे की यात्रा को डेढ़ घंटे में तय करना पड रहा है. स्थिति और भी गंभीर तब हो जाती है, जब बरसात के समय गड्ढों में पानी भर जाता है.

नागरिकों ने इस संबंध में जनप्रतिनिधियों से भी शिकायत की है, लेकिन प्रशासन की तरह जनप्रतिनिधियों को भी इसकी कोई चिंता नहीं है. सड़क की मरम्मत नहीं की गई तो किसी बड़ी दुर्घटना से इंकार नहीं किया जा सकता. मार्ग में आने वाले मल्ही, शंभुटोला, महारिटोला, सरकारटोला, ननसरी के ग्रामवासियों ने भी जल्द से जल्द सड़क की मरम्मत करने की मांग की है.