Published On : Thu, Jun 15th, 2017

अधिकारियों की लापरवाही से 20 वर्षीय रेलकर्मी की मौत

loco shed
नागपुर: 
अजनी लोकोशेड में टीन की शेड बदलते समय 20 वर्षीय युवा रेल्वे कर्मचारी की मौत हो गयी। घटना सुबह करीब साढ़े दस बजे की है 20 वर्षीय सतीश सूर्या लोकोशेड के ऊपर लगी टीन की छत को बदलने का काम कर रहा था इसी दौरान जर्जर हो चुकी टीन की छत उसका वजन नहीं संभाल पायी और वह 60 फ़ीट से ज़मीन पर गिर गया। इस हादसे में सूर्या के सिर के अलावा शरीर में कई जगह गंभीर चोट लगी। लोकोशेड के साथी कर्मचारी उसे तुंरत लेकर डीआरएम ऑफिस स्थित रेल्वे के अस्पताल के लिए निकले लेकिन उसकी रास्ते में ही मौत हो गयी। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक 60 फ़ीट ऊपर काम कर रहे सूर्या के पास सुरक्षा का कोई सामान नहीं था इस वजह से उसे ज्यादा गंभीर चोटे आयी।

इस घटना के बाद रेल्वे के सुरक्षा दावों की पोल खुल गयी। इस घटना के बाद रेल कर्मचारियों की यूनियन सीआरएमएस और एनयूआरएम ने डीआरएम कार्यालय के बहार भारी हंगामा किया। यूनियन के मुताबिक रेल्वे के विभिन्न विभागों में कर्मचारी जोखिम भरा काम करते है रेल्वे की सुरक्षा नीति के तहत ऐसे काम के वक्त कर्मचारियों की सुरक्षा का ध्यान देना होता है। बावजूद इसके कर्मचारियों को अपनी सुरक्षा के लिए जरुरी सामग्री उपलब्ध ही नहीं कराई जाती है।

यूनियन के प्रदर्शन कर इस घटना के लिए जिम्मेदार मानते हुए सुरक्षा अधिकारी पर तुरंत कार्यवाही की माँग की। यूनियन की माँग को मानते हुए डीआरएम ब्रिजेश गुप्ता ने नागपुर मंडल के कर्मचारी सुरक्षा अधिकारी एम जी जोशी को निलंबित कर दिया। डीआरएम ने इस घटना की जाँच के भी आदेश दिए है। मृतक सतीश सूर्या पांच महीने पहले ही पिता की मौत के बाद अनुकंपा पर चतृर्थ श्रेणी कर्मचारी के रूप में नियुक्त हुआ था।