Published On : Sat, May 15th, 2021

विश्व सिंधी सेवा संगम महाराष्ट्र टीम पूरे देश मे सबसे बेहतरीन टीम — डॉ राजू मनवानी

नागपुर ,पूरे विश्व के सिंधी समाज का प्रतिनिधित्व करने वाले संगठन विश्व सिंधी सेवा संगम के अंतर्राष्ट्रीय चेयरमैन लायन डॉ राजू मनवानी ने महाराष्ट्र अध्यक्ष प्रताप मोटवानी से एक वेबनार प्रोग्राम में प्रश्न पूछा कि पूरे देश में 25 राज्यों में महाराष्ट्र टीम आज सबसे बेहतरीन एक्टिविटी कर रही है उसका क्या रहस्य है।।प्रताप मोटवानी ने बताया कि वे आज नागपुर विदर्भ महाराष्ट्र में गत 30 साल से धार्मिक, व्यापारिक ,सामाजिक और रेलवे कमिटी से सक्रिय रूप से जुड़ कर कार्य कर रहे है।गत 8 वर्ष से नागपुर भाजपा में शहर उपाध्यक्ष होकर सभी से मिल कर कार्य किया है।उन्होंने बताया कि वह बचपन से समाचार पत्रों में लिखते आये है और पत्रकारिता में रुचि होने से जितने संघटनों में जुड़ते है उनकी एक्टिविटी और प्रोग्राम की न्यूज़ खुद लिख कर प्रकाशित करते है।।उनके द्वारा 30 वर्षो से लिखने से सभी से उनके संबंध बेहद अच्छे है।।मोटवानी ने बताया कि उन्होंने सिंधी समाज के अलावा हर क्षेत्र में कार्य किया है जिससे उनके सभी क्षेत्रों में बेहद अच्छे होने से उसका लाभ मुझे विश्व सिंधी सेवा संगम में मिला है।।उन्होंने कहा अगर वह समझते है कि वह किसी पद पर कार्य कर सकते है तभी उसे स्वीकार करते है अन्यथा नही पद लेकर वह जुनून के साथ कार्य करते है।

और उनका सौभाग्य है कि उन्हें इतनी अच्छी समर्पित टीम मिली जिन्होंने दिल से कार्य किया और मैंने उन सभी को कार्य करने के लिए प्लेटफार्म दिया उनके कार्य और प्रतिभा को समाचार पत्रों के माध्यम से घर घर पहुचाया।।समाज के लिए कार्य करने वाले सभी पदाधिकारियों को उनको आगे बढ़ाने का संकल्प लिया बिना किसी स्वार्थ के इसीलिए सभी टीम ने मेरे साथ दिल से कार्य किया चाहे वह भाई बहिने या युवा टीम हो।।मेरी नजर में मुझ से छोटा मेरे बेटे या बेटी मेरी समान उम्र वाले भाई या बहन और मुझ से बड़ी उम्र का पिता या माता समान है ऐसा समाज भावना रख कार्य किया।

।और समर्पित होकर कार्य किया सभी को साथ लेकर कार्य किया इसी वजह से आज महाराष्ट्र टीम पूरे 25 राज्यो में सर्वश्रेष्ठ है।।आपकी भावना अच्छी हो उद्देश्य सेवाभाव का हो तो सफलता आपके कदम चूमेगी।।समाज सेवा का व्यापारीकरण न हो जिस संघठन से जुड़े है उसी में समर्पण कर सेवा करे।।दो नाव की सवारी याने अनेक संघठन में जुड़ कर कार्य करने वाला सफल नही होता।।।समाज के प्रति सच्ची निष्ठा रख कार्य करे।।आप सदैव सफलता पाएंगे।।अहंकार से दूर रहे सभी को अपना बना कार्य करे छोटी मोटी गलतियों को नजरअंदाज कर कार्य करे ,सभी को उनके कार्य पर प्रोत्साहित करें यही सफलता का मूल रहस्य है।।।।डॉ राजू मनवानी ने मोटवानी की बात का समर्थन किया।प्रोग्राम में नागपुर के सुप्रसिद्ध सायबर साइकोलॉजिस्ट डॉ राकेश कृपलानी ने कोरोना के पूर्व और बाद में होने वाले बदलावों की जानकारी दी।।अंत मे आभार अमृता दुदिया ने माना