Published On : Mon, Sep 25th, 2017

संघ के प्रयास से नागपुर में स्वदेशी ई मेल सर्विस को तैयार करने का काम शुरू

Representational Pic


नागपुर:
आने वाले दिनों में देश की आम जनता पूर्णतः स्वदेशी कंपनी के माध्यम से ई मेल सर्विस का लाभ ले सकेगी। तकनीक को भारतीय परिवेश में ढालने के काम में इन दिनों राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जोर शोर से कर रहा है। अगर सब कुछ संघ की सोच के अनुसार चलता है तो आगामी कुछ महीनो के भीतर जनता देश में बनायीं गयी ई मेल सर्विस का इस्तेमाल कर सकेगी।

वर्त्तमान में देश में कई कंपनिया ई मेल सेवा प्रदाता कंपनी के रूप में सेवाएं दे रही है लेकिन इसमें ज्यादातर कंपनिया विदेशी है।

उच्च शिक्षा के क्षेत्र में काम करने वाले आरएसएस के संगठन भारतीय शिक्षण मंडल ने पूरी तरह स्वदेश में निर्मित ई मेल सर्विस को तैयार करने का जिम्मा उठाया है। नागपुर के आईटी पार्क में बाकायदा इसका काम भी शुरू हो गया है। फ़िलहाल डेटा बेस के संग्रह और डोमेन को तैयार करने का काम शुरू है और जल्द की भारत डॉट कॉम नाम से इस इस सेवा को जारी किया जायेगा।

देश भर के प्रमुख आईआईटी,आईआईएम और अन्य उच्च तकनिकी शिक्षा से पढ़कर निकले करीब 500 छात्र इस काम में जुटे है। भारतीय शिक्षण मंडल के नागपुर स्थित केंद्रीय कार्यालय से संघ के इस पहल की जानकारी सामने आयी है। इसके पीछे संघ की सोच है कि देश के भीतर मौजूद संसाघनों का इस्तेमाल का जनता के लिए स्वदेशी साधन उपलब्ध कराया जाए। जिसमे राष्ट्रवादी की छवि भी हो साथ ही देश के लोगो की जानकारी देश में ही रहे। भारत डॉट कॉम का आईटी सेंटर देश में इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी का हब कहे जाने वाले बैंगलोर में बनाया जा रहा है।

फ़िलहाल संघ के प्रयासों से बनाये जाने वाले ई मेल सर्विस का सेंटर नागपुर में स्थित है। भविष्य में सर्च इंजन,सर्वर और सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफॉर्म को भी बनाए जाने का प्लान है।