Published On : Tue, Sep 16th, 2014

वर्धा पंचायत समिति सभापति, उपसभापति पद पर कांग्रेस राष्ट्रवादी का राज


वर्धा। 
गत ढाई वर्ष पूर्व पंचायत समिति वर्धा में कांग्रेस के सभापति व उपसभापति राष्ट्रवादी के थे. 14 सितंबर रविवार को हुए चुनाव कांग्रेस पार्टी के कुंदा भोयर का सभापति पद पर चुनाव हुआ है. उन्होंने भाजपा के मंगरुलकर का प्रभाव किया. भोयर को 13 वोट मिले और भाजपा के मंगरुलकर को 9 वोट मिले. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के संदेश किटे को उपसभापति पद मिला.

कारंजा पंचायत समिति सभापति पद पर दूसरी बार भाजपा के मोरेश्वर
कारंजा : पंचायत समिति पर फिर एक बार भाजपा ने अपना कब्ज़ा कर लिया है. ढाई वर्ष पूर्व पद पर विराजमान मोरेश्वर भांगे का और एक बार सभापति पद के लिए चुनाव हुआ है. वही उपसभापति राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के सुभांगी पठाड़े का चुनाव हुआ.

आष्टी पंचायत समिति में छाया भगवा
आष्टी : पंचायत समिति में भाजपा के सिर्फ 3 सदस्य होने के बावजूद भी राष्ट्रवादी-भाजपा अभद्र युति हुई. भाजपा के सभापति व राष्ट्रवादी के उपसभापति ऐसी युति होने पर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के 2 सदस्यों ने उपसभापति पद के अर्जी दाखिल की. इस वजह से उपसभापति पद पर भाजपा की शारदा टेकाम का चुनाव हुआ. वही सभापति पर पर भाजपा की अर्चना मारोती रत्रटे का चुनाव हुआ. यहाँ राष्ट्रवादी पार्टी ने भाजपा के साठ युति करके राष्ट्रवादी पार्टी के हाथों ”बाबाजी का ठुल्लु” देने की चर्चा शहर में थी.

समुद्रपुर पंचायत समिति सभापति पद पर दूसरी बार राष्ट्रवादी के नंदा साबले
समुद्रपुर : गत ढाई वर्ष पूर्व राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने सभापति पद पर नंदा साबले का चुनाव हुआ था. रविवार को हुए चुनाव में और एक बार फिर नंदा साबले का सभापति के लिए चुनाव हुआ. वहीं राष्ट्रवादी कांग्रेस के अशोक वांदिले उपसभापति के रूप में चुने गए.

हिंगणघाट पंचायत समिति पर राष्ट्रवादी के संजय तपासे सभापति पद के लिए निर्वाचित
हिंगणघाट : जिला परिषद के पूर्व सदस्य तथा पंचायत समिति सदस्य संजय तपासे हिंगणघाट पंचायत समिति सभापति पद के लिए निर्वाचित हुए. वही उपसभापति पद के लिए कांग्रेस के मिलिंद कोपूलवार निर्वाचित हुए. कांग्रेस राष्ट्रवादी पार्टी को और एक बार अपनी सत्ता बरक़रार रखने में कामयाब हुई है.

देवली पंचायत समिति के पद पर कांग्रेस सभापति-उपसभापति का अविरोध
देवली : ना. रणजीत कांबले का एकछत्र स्थापित होने से देवली पंचायत समिति पर पिछड़े समाज के लिए आरक्षित सीट पर भगवान भरणे सभापति पद के लिए निर्विरोध निर्वाचित हुए. वहीं उपसभापति पद के लिए कांग्रेस के गुलाबराव डफरे निर्वाचित हुए. इस पंचायत समिति पर कांग्रेस ने वर्चस्व बरकरार रखा है.

आर्वी पंचायत समिति में ताराबाई ताडाम बनीं सभापति
आर्वी : शेतकरी संघटना के प.स. सदस्य ताराबाई ताडाम को भाजपा के समर्थन से वह सभापति पद के लिए निर्वाचित हो गईं. वहीं उपसभापति पद के लिए ईश्वर चिठ्ठी से भाजपा के बालाभाऊ नांदुरकर निर्वाचित हुए है. आर्वी, आष्टी, कारंजा इन तीनों पंचायत समिति पर भाजपा का कब्जा रहा है. आर्वी पं.स. में अपक्ष सदस्य पुरुषोत्तम इवनाते को भाजपा ने अपनी तरफ से आर्वी में भाजपा ने अपना कब्जा जमा लिया है.

Representational pic

Representational pic