Published On : Fri, Dec 6th, 2019

भारतरत्न डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर महापरिनिर्वाण दिवस पर राज्यपाल, विधानसभा अध्यक्ष, मुख्यमंत्री का अभिवादन

मुंबई: भारतरत्न डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर के 63वें महापरिनिर्वाण दिवस पर, राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी, विधानसभा अध्यक्ष नाना पटोले और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने चैत्यभूमि में डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर की प्रतिमा पर पुष्पचक्र अर्पित कर अभिवादन किया।

इस मौके पर राज्यपाल ने कहा, आइए हम सब मिलकर बाबासाहेब के सपनों का भारत बनाने की कोशिश करें। बाबासाहेब के विचार कई पीढ़ियों के लिए प्रेरणादायक है। उन्होंने संविधान के माध्यम से देश को एकजुट रखने का प्रयास किया। पूरा देश आज उनका अभिवादन कर रहा है। राज्यपाल ने अपनी भावनाओं को शब्दों में व्यक्त किया कि मैं विनम्रतापूर्वक उनका अभिवादन कर रहा हूं।

मुख्यमंत्री ठाकरे ने कहा, बाबासाहेब का जीवन एक जलती हुई आग था। उन्होंने आम लोगों को इंसान के रूप में जीने का अधिकार दिलाने के लिए लड़ाई लड़ी। डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर 22 साल तक परळ दामोदर हॉल के पास बीआईटी चाल में रहे। उन्होंने कहा कि उनके निवास को राष्ट्रीय स्मारक के रूप में विकसित किया जाएगा।

इस दौरान विधान परिषद के उपसभापती डॉ. नीलम गोऱ्हे, मंत्री जयंत पाटिल, सुभाष देसाई, बालासाहेब थोरात, विधायक आदित्य ठाकरे, मुंबई की मेयर किशोरी पेडणेकर, महापालिका आयुक्त प्रवीण परदेशी आदि मौजूद थे।

राज्यपाल श्री. कोश्यारी, विधानसभा अध्यक्ष श्री. पटोले, मुख्यमंत्री श्री. ठाकरे ने दादर के श्रीमती कमला मेहता अंधशाला में नेत्रहीन छात्रों को उपहार सामग्री सौंपी। इसके साथ ही डॉ. आंबेडकर के महापरिनिर्वाण दिवस के अवसर पर आयोजित एक फोटो प्रदर्शनी का दौरा किया।