Published On : Fri, May 12th, 2017

विदर्भ वादियों ने फूंका भाजपा प्रदेशाध्य्क्ष रावसाहेब दानवे का पुतला


नागपुर: 
प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रावसाहेब दानवे का विवाद बढ़ता ही जा रहा है. शिवसेना की ओर से भी कई शहरों दानवे के खिलाफ प्रदर्शन किया जा रहा है. वहीं कांग्रेस पार्टी की ओर से भी दानवे के इस्तीफे की मांग की जा रही है. शुक्रवार को दानवे के विरोध में विदर्भ राज्य आंदोलन समिति की ओर से भी नागपुर शहर के गिरिपेठ में उनका पुतला फुंका गया. जिसमे बड़ी तादाद में विदर्भ राज्य आंदोलन समिति के कार्यकर्ता और पदाधिकारी मौजूद थे. इस दौरान किसान संघठन भी इस विरोध में उपस्थित थे.

प्रदर्शन के दौरान दानवे के खिलाफ नारेबाजी भी की गई. दरअसल रावसाहेब दानवे ने एक परिषद में बात करते हुए किसानों को लेकर ‘साला’ शब्द का उपयोग किया था. जिसके बाद इस विवाद ने तूल पकड़ लिया.

इस प्रदर्शन में विदर्भ राज्य आंदोलन समिति के राम नेवले ने विरोध जताते हुए कहा कि 12 हजार रुपए तुअर का भाव होते हुए भी तुवर दाल के निर्यात पर बंदी लगाई गई. सरकार बड़ी तादाद में तुअर दाल आ आयात कर तुवर दाल का भाव चार हजार पर लाने का षड़यंत्र रच रही है. ऐसे में दानवे ने किसानों के लिए अपशब्द कहकर किसानों का अपमान किया है.


नेवले ने कहा कि पिछले वर्ष तुअर दाल के भाव 200 रुपए पर पहुंच गए थे. जिसके कारण सरकार ने किसानों को तुअर की पैदावार बढ़ाने की अपील की थी. साथ ही किसानों को बोनस भी दिया था. और इस वर्ष जब तुअर दाल ज्यादा प्रमाण में बोई गई तो सरकार ने निर्यात पर रोक लगाकर किसानों के साथ धोखा किया है. प्रदर्शन के दौरान भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा गया.