Published On : Wed, Apr 26th, 2017

तंग हाल विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार और प्राध्यापकों अमेरिका दौरे पर, यह ग़लत है: एनएसयूआई


नागपुर:
 राष्ट्रसंत तुकडोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार और कुछ प्राध्यापक एक चर्चासत्र के लिए अमेरिका के बोस्टन युनिवर्सिटी जा रहे हैं। इस दौरे पर विश्वविद्यालय के करीब 20 लाख रुपए खर्च होंगे। तंग हाल के दौर से गुजरते विश्वविद्यालय की इस फिजूल खर्ची का विरोध एनएसयूआई और कांग्रेस की ओर से विद्यापीठ परिसर में धरना प्रदर्शन कर किया गया। प्रदर्शन के दौरान कार्यकर्ताओं ने मुँह पर काली पट्टी बांधकर मूक प्रदर्शन किया। जिसमें विद्यार्थियों समेत एनएसयूआई और कांग्रेस के कार्यकर्ता बड़ी संख्या में मौजूद थे। इस दौरान एनएसयूआई के अभिषेक सिंह ने कहा कि नागपुर विश्वविद्यालय के निधि के अभाव में कई योजनाओं पर पानी फिर रहा है।

विश्वविद्यालय में पढ़ रहे विद्यार्थियों के हॉस्टल की हालत काफी खराब है। जिसके कारण विद्यार्थियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। लेकिन इन मूलभूत ज़रूरतों को छोड़ यहां के प्राध्यापक और रजिस्ट्रार अमेरिका चर्चासत्र में भाग लेने जा रहे हैं। जिसका कोई उपयोग और महत्त्व नहीं है। नगरसेवक बंटी शेलके ने विरोध जताते हुए कहा कि इस चर्चासत्र से विद्यार्थियों को क्या लाभ होनेवाला है।

इस दौरान सभी मौजूद कार्यकर्ताओं ने कुलगुरु डॉ. सिद्दार्थविनायक काने से चर्चा की। जिसमें कुलगुरु ने बताया कि इस दौरे के लिए विश्वविद्यालय की ओर से कोई निधि नहीं दी जा रहा है। इस प्रदर्शन में अजित सिंह, पश्चिम नागपुर युवक कांग्रेस के अध्यक्ष अखिलेश राजन, नगरसेविका नेहा निकोसे प्रमुख रूप से मौजूद थे।