Published On : Fri, Nov 6th, 2020

उद्धव सरकार की जनता से पटाखे नहीं फोड़ने की अपील, COVID-19 के मद्देनजर SOP जारी

नागपुर– त्योहारी मौसम के बीच कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी पर काबू पाने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों की ओर से कई तरह के उपाय किए जा रहे हैं. कई राज्यों ने कोरोना महामारी और वायु प्रदूषण (Air Pollution) को रोकने के लिए पटाखों की बिक्री पर बैन लगाने का भी फैसला किया है. महाराष्ट्र सरकार ने दिवाली (Diwali) के दौरान COVID-19 पर नियंत्रण करने के लिए एहतियाती कदम उठाते हुए शुक्रवार को मानक संचालन प्रक्रिया (SOP) जारी की.

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, सीएम उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) की अगुवाई वाली महाराष्ट्र सरकार ने राज्य के लोगों से पटाखे फोड़ने से बचने का आग्रह किया है ताकि शोर-शराबे और वायु प्रदूषण पर लगाम लगाई जा सके. महाराष्ट्र सरकार के लोगों से अपील करने से पहले राजस्थान और दिल्ली सरकार ने पटाखों की बिक्री और आतिशबाजी पर रोक लगा दी है.

दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने कोरोनावायरस और बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए किसी भी तरह के पटाखों की बिक्री पर रोक लगा दी है. यह रोक 30 नवंबर तक है. इससे पहले, दिल्ली में ग्रीन पटाखों की ब्रिकी की छूट थी, लेकिन अब दिल्ली सरकार ने इस पर भी रोक लगा दी है. यानी दिल्ली में अब किसी भी तरह के पटाखों की ना तो खरीद-फरोख्त हो सकती है और ना ही पटाखे फोड़े जा सकते हैं.

बता दें कि महाराष्ट्र में कोरोनावायस संक्रमितों की संख्या 17 लाख के करीब है. इसमें से 44,548 लोगों की वायरस की वजह से जान जा चुकी है जबकि 15 लाख से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं. राज्य में कोरोना के एक्टिव केसों की संख्या 1.13 लाख है.