Published On : Thu, Jan 12th, 2017

Video: हजार दे… नहीं साहब सौ रुपए में निबटा दो न!

 नागपुर: अपने वाहन से शहर की सीमा में चलते हुए हम सभी को यातायात पुलिस का सामना करना ही होता है और कई बार जरुरी दस्तावेज नहीं लेकर चलने पर पुलिस की कार्रवाई भी ‘झेलते’ हैं। पर, अक्सर यही होता है जो आपको अभी अपने स्क्रीन पर दिखाई दे रहा है…

नाकाबंदी शुरु है। खाकी वर्दी में एक पुलिस हवलदार गाड़ी रोकने का इशारा करता है। जिस शख्स को रोक गया है, उससे लाइसेंस मांगता है वह ट्रैफिक हवलदार, लाइसेंस देखने के बाद इंश्योरेन्स दस्तावेज मांगता है। वह शख्स कहता है कि साथ में नहीं है। हवलदार धीरे-धीरे उस शख्स को बात के बहाने नाकाबंदी की जगह से जरा दूर ले जाता है, फिर इंश्योरेन्स दस्तावेज साथ नहीं होने का जुर्माना बताता है – एक हजार रुपए।

फिर खुद ही उस शख्स को सलाह देता है कि जगह पर ले-देकर रफा-दफा करो।

वह शख्स सौ रुपए उस हवलदार की कीमत लगाता है। हवलदार मान जाता है। वह शख्स अपने पर्स से 100 की नोट निकालता है और हवलदार साहब बड़ी चपलता से उस सौ के नोट को हाथ में पकड़े रजिस्टर के नीचे दबा लेता है।

घूस लेने और देने वाले दोनों को नहीं मालूम कि यह घटना किसी के मोबाइल में रिकॉर्ड हो रही है। घटना 9 जनवरी के शाम की नागपुर के हनुमान नगर बास्केट बॉल मैदान के पास की है। ट्रैफिक हवलदार साहब पर तो कार्रवाई की सिफारिश हो चुकी है, लेकिन घूस देना भी तो गैर कानूनी है तो भइये वीडियो में दिखते शख्स पर कार्रवाई कब होगी?