Published On : Sat, Aug 26th, 2017

बाघ शिकार मामले के फ़रार आरोपी की मिली लाश

crime
नागपुर: 
शनिवार दोपहर नागपुर जिले की परशिवानी तहसील अंतर्गत धवलापुरी -नरहर रोड पर सड़क किनारे एक लाश बरामद हुई। पुलिस पाटिल से प्राप्त सूचना के आधार पर घटनास्थल पर पहुँची पुलिस ने जब शिनाख्त की तब पता चला की लाश 50 वर्षीय महादेव उइके नामक व्यक्ति की है। महादेव दो महीने पहले की बाघ शिकार मामले में फरार था। पुलिस ने लाश को बरामद कर वन विभाग को इस बाबत सूचना दी जिसके बाद वन विभाग ने भी अपनी तरफ़ से महादेव उईके को पहचानने की पुष्टि कर दी।

करीब दो महीने पहले वन विभाग को सूचना मिली थी की पेंच टाईगर रिजर्व के अंतर्गत आने वाले तोतलाडोह तालाब में मछली पकड़ने वाले मछुवारे बाघ शिकार में लिप्त है। इसी सूचना के आधार पर पवनी रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर और पेंच रेंज फॉरेस्ट द्वारा संयुक्त रूप से सर्च ऑपरेशन को अंजाम दिया था। इस ऑपरेशन के दौरान वन विभाग ने 17 लोगों को गिरफ़्तार किया था। जिनके पास से बाग़ के दाँत,नाख़ून बरामद हुए थे। जिन 17 आरोपियों को गिरफ़्तार किया गया था जिनमे महादेव उईके भी शामिल था। गिरफ़्तारी के बाद महादेव वन विभाग के चंगुल से फ़रार होने में क़ाबियाब भी हो गया था।

लाश को बरामद कर पुलिस मामले की जाँच कर रही है। सड़क किनारे महादेव की लाश मिलना कई तरह के संदेह पैदा करता है जिसकी जाँच पुलिस कर रही है।