Published On : Thu, Nov 11th, 2021

भुलभुलैया तहत वेकोलि खदान से हजारों टन कोयला की तस्करी

Advertisement

– एक कोल माफिया ने भी खुद का नया कोयला टाल शुरू कर अवैध कोयला टालों में आपसी स्पर्धा कर दी

नागपूर : वेकोलि गोंडेगांव की ओपन कास्ट कोयला खदान के सुरक्षा अधिकारी की मिलिभगत से भुल-भुलैया कोयला की अवैध टालों मार्फ़त हजारों मीट्रीक टन असली कोयला की तस्करी चरम पर हैl

Advertisement
Advertisement

वेकोलि सूत्रों की माने तो कोयला कलर का काला सेल पत्थरों की 1–2 टिप्पर खेप सड़क किनारे झाडियों में डाल दिया जाता है ताकि स्थानीय स्तर पर गुमराह किया जा सके.

ओपन कास्ट कोयला खदान से ही असली कोयला डुमरी यार्ड में उतारने के नाम पर नागपूर जबलपुर हाईवे चौंक पहुँचाया जाता हैl तय योजना के तहत कोयला से लदे टिप्पर को निजी कोयला तस्करों के स्टाक-यार्ड पंहुच मार्ग तथा मिनी MIDC मार्ग होते हुए लघु कारखानदारों को आपूर्ती किया जा रहा है l
विश्वसनीय सूत्रों द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार उक्त अवैध कृत में कोयला खदान के क्षेत्रीय उप प्रबंधक,सहायक प्रबंधक अपने गुर्गो के मार्फ़त अफवाह फैला देते है कि अमुक स्थान पर अवैध कोयला तस्करी हो रही है……. चलिये ?

हालकि सड़क किनारे गिराये गये सैल कोयला पत्थरों में भी 2% मात्रा अच्छा कोयला की पायी जाती है,जिसे असली समझकर ग्रामीण जनता को गुमराह किया जा रहा और सैल पत्थर में चिपके काले सेल को चुनने के लिए भीड़ जमा हो जाती हैl

कोयला अंचल के मुखबीरों की माने तो असली कोयला से लदे टिप्पर खदान के अंदर से ही तस्करी शुरु है l इस कार्य के लिए वेकोलि के सुरक्षा अधिकारी,उपक्षेत्रीय की भागीदारी और सांठगांठ फलस्वरुप वेकोलि को करोड़ो का चूना लागाया जा रहा हैl

अवैध कोयला टालों में इजाफा
वैसे गोंडगांव और इंदर वेकोलि ओपनकास्ट कोयला खदान क्षेत्र में आधा दर्जन से अधिक कोयला टालें संचालित हो रही थी लेकिन पिछले दिनों एक कोल माफिया ने भी खुद का नया कोयला टाल शुरू कर अवैध कोयला टालों में आपसी स्पर्धा कर दी.यहाँ छापा मारा गया तो चोरी के कोयले का नगदी में खरीद-बिक्री होते देखा जा सकता हैं.

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

Advertisement
Advertisementss
Advertisement
Advertisement
Advertisement