Published On : Wed, Sep 6th, 2017

फुटाला तालाब में हुआ इस वर्ष 6594 मूर्तियों का विसर्जन


नागपुर
: गणेश विसर्जन को लेकर पर्यावरण सेवी संस्थाओं की ओर से जनजागृति के चलते इस बार गणेश विसर्जन करने के लिए कृत्रिम तालाबों का ज्यादा उपयोग किया गया. पिछले वर्ष फुटाला तालाब परिसर में कुल 3785 गणेश मूर्तियों का विसर्जन किया गया था. इनमें कृत्रिम तालाब में 2429 मूर्तियों का विसर्जन किया गया था. जिसमें से 1356 मूर्तियों का विसर्जन तालाब में किया गया था. लेकिन इस बार यह आकड़े काफी ज्यादा हैं.

तालाब में विसर्जन और कृत्रिम तालाब में विसर्जित की गई मूर्तियों में भी इस बार बढ़ोत्तरी देखने को मिली है. इस वर्ष के गणेश विसर्जन में कुल 16729 मुर्तियां विसर्जित की गई हैं. जिसमें से कृत्रिम तालाब में 10,135 मुर्तियां तो वहीं फुटाला तालाब में 6,594 मुर्तियां विसर्जित की जा चुकी हैं. इन आकड़ों को देखकर यह पता चलता है कि कृत्रिम तालाब और फुटाला तालाब में पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष तीन गुना ज्यादा मुर्तियां विसर्जित की गई है.

इस बार कई जगहों पर पाबंदी के कारण फुटाला तालाब में मुर्तियां विसर्जित करनेवाले नागरिकों में बढ़ोत्तरी देखने को मिली है. ज्यादार बड़ी मुर्तियां तालाब में ही विसर्जित की गई. छोटी मूर्तियों को लेकर फुटाला तालाब परिसर में ग्रीन विजिल टीम के साथ अन्य पर्यावरण सेवी संस्थाओं की ओर से नागरिकों को मार्गदर्शन किया गया. जिसके कारण ही पिछले वर्ष से ज्यादा मुर्तियां कृत्रिम तालाब में विसर्जित की गई.