Published On : Thu, Jan 2nd, 2020

युवाओ ने गरीबो, जरुरतमंदो और अनाथ बच्चो को फल वितरण कर मनाया नया साल

नागपुर– हर साल नए वर्ष के जश्न में लाखों में पैसे ख़र्चा होता और वही दूसरी ओर ग़रीब लोग व बच्चे भूखे सोते नज़र आते हैं, पर कुछ ऐसे सोच लेकर भी चलने वाले युवा हैं, जिन्होंने एक निराले और बदलाव की लहर से नए वर्ष मनाने की ठानी और नए वर्ष इस तरीक़े से मनाया। जिसमें उन्होंने , मेडिकल होस्पिटल के परिसर और वार्ड के अंदर ज़रूरतमंद लोगों को फ्रूट और स्नैक्स के एक पैकेट में केले , सेब , संतरा , अनार , बूर्नविटा पाउच ,चिक्की , बिस्कुट के पैकेट बनाएं और करीब 750 पैकेट बांटे गए । सभी ज़रूरतमंद इसका लाभ ले सके और कोई दुबारा ना ले इसके लिए इन युवाओ ने उनके हाथो मे इंक का मार्क भी लगाया ।

यह सिलसिला यही मेडिकल तक ही सीमित नही था, युवाओ ने जयतालाके पास एक झोपडपट्टी जो की वहाँ से गुज़रते हुए टीम के एक सदस्य को नजर आयी थी । युवाओं ने उस झोपडपट्टी में जाकर वहाँ के गरीब लोगों को भी फ्रूट बाँटे। सदस्य कुणाल मौर्य ने बताया की वो दृश बहुत ख़ुशी का था क्योंकि वहाँ के लोग इस बात से अनजान थे और अचानक फल प्राप्त करके वे काफी खुश हुए ।

उसके बाद इन युवाओ ने लोग अपंग बालविकास गृह ( प्रताप नगर) में जाकर नए साल का केक काटकर बच्चो के साथ जश्न मनाया ।

कुणाल मौर्या ने हमें बताया की यह कार्य वे 2014 मे मयूर मराठे, सिद्दार्थ मिश्रा , तनमय दूधैया, धीरज धोके, कुणाल रेंगे , पंकज जुँघरे ,रोहित रामटेके , राजेश खंडरे, वैभव कुलकर्नि , धीरज कड़ुकर अन्य के साथ कर रहे है और अब काफ़ी लोग टीम का हिस्सा हैं ।

उन्होंने यह भी बताया की यह कोई संस्था नही हैं बस मिलजुलकर अच्छे कार्य करने मे विश्वास रखते हैं ।