Published On : Sun, Sep 19th, 2021

देर रात तक चलेगा विसर्जन का सिलसिला, भक्तों द्वारा दी जाएगी भावभीनी विदाई

नागपुर: सिटी में 10 दिवसीय गणेशोत्‍सव पूरे उमंग और उल्‍लास के साथ मनाया. 19 सितंबर अनंत चतुदर्शी के दिन अब बप्पा की विदाई होगी. मनपा प्रशासन द्वारा तालाबों व नदियों में विसर्जन पर बंदी लगाई है लेकिन पूरे शहर में सभी जोन में लगभग हर चौराहों पर कृत्रिम टैंक की व्यवस्था की गई है.

नागरिकों से अपील की गई है कि वे गणेश प्रतिमा का विसर्जन इन कृत्रिम टैंकों में ही कर सहयोग करें. वहीं फूल-मालाओं आदि के लिए तालाबों के समीप व कृत्रिम टैंकों के करीब कुंड रखे गए हैं. खुद मनपा आयुक्त राधाकृष्णन बी. ने पूरी व्यवस्था का जायजा लिया है. उनके साथ अतिरिक्त आयुक्त राम जोशी, घनकचरा व्यवस्थापन नोडल अधिकारी डॉ. गजेंद्र महल्ले, धंतोली जोन सहायक आयुक्त किरण बगडे, धरमपेठ जोन सहायक आयुक्त प्रकाश वर्हाडे, लक्ष्मीनगर जोन सहायक आयुक्त गणेश राठोड, नेहरूनगर जोन सहायक आयुक्त हरीश राऊत उपस्थित थे.

आयुक्त ने लिया जायजा
मनपा आयुक्त ने विसर्जन के एक दिन पूर्व सारी तैयारियों का जायजा लिया. उन्होंने गांधीसागर, सक्करदरा, सोनेगांव, फुटाला तालाब का दौरा कर व्यवस्था देखी. निर्माल्य संकलन और विसर्जन के लिए मार्गदर्शन करने की दृष्टि से स्वयंसेवी संस्थाएं भी सहयोग कर रही हैं. गणेश भक्तों को किसी तरह की तकलीफ न हो इस पर विशेष ध्यान देने का निर्देश उन्होंने दिया है.

तालाबों में प्रदूषण रोकने के लिए उन्होंने कृत्रिम टैंकों में ही विसर्जन की अपील की है. साथ ही हर जोन में मोबाइल विसर्जन कुंड की व्यवस्था की गई है. हर जोन में ऐसे 2 मोबाइल कुंड होंगे जो नागरिकों की मांग पर उनके घर के समीप आएंगे. उसमें विसर्जन किया जा सकता है. मनपा के अधिकृत सोशल मीडिया पर सभी जोन में कार्यरत रहने वाले मोबाइल कुंड के मोबाइल नंबर उपलब्ध किये गए हैं.