Published On : Tue, Apr 6th, 2021

पालकमंत्री का प्रशासन से नियंत्रण छुटा, कोरोना से शहर की हालत बद से बदतर

राज्य में सरकार चाल भले ही सुस्त हो गयी हो लेकीन कोरोना अपनी रफ्तार से आगे बढ रहा है I मुंबई-पुणे के बाद शहर में भी कोरोना का मृत्यूदार बढना बेहद घातक सिद्ध हो रहा है I पालकमंत्री नितीन राऊत का जहा प्रशासन से नियंत्रण छुट चुका है I

वही निजी अस्पताल भी कोरोना को अपनी कमाई का जरिया बना चुके है I आज तक पालकमंत्री ने किसी भी अस्पताल में कभी जाकर नही देखा, केवल महानगर पालिका के भरोसे काम चल रहा है I अपना मंत्रिपद बचाने की जुगत में नागरिको की जान से खिलवाड पालकमंत्री कर रहे है I शहर के बाकी मंत्रियो ने तो जैसे हाथ ही झटक लिए, ऐसी स्थिती है I

शासन की ओर से किसी भी प्रकार की ठोस सुविधा नागरिको को नही मिल रही है I मेयो-मेडिकल हाउसफुल होने के साथ कोई पर्यायी सुविधा उपलब्ध करा पाने में सरकार असफल साबित रही I जिसका फायदा निजी अस्पताल उठा रहे है I जनता सरकार की इस अनदेखी को कभी माफ नही करेगी I इसका ध्यान पालकमंत्री को रखना चाहिये I