Published On : Sat, Apr 19th, 2014

वर्धा: उप विभागीय अधिकारी रिश्वत लेते गिरफ्तार


वर्धा.

आर्वी के उप विभागीय अधिकारी सुनील मनोहर कोरडे को भ्रष्टाचार निरोधी ब्यूरो (एसीबी) ने 25 हजार रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथों शुक्रवार को संध्या 5. 30  बजे गिरफ्तार कर लिया. रिश्वत माँगने की उनके खिलाफ यह शिकायत आर्वी के देशमुख इंफ्रास्ट्रक्टर प्रा. लि. के मालिक प्रवीण मधुकरराव देशमुख ने दर्ज कराई थी.

देशमुख ने एसीबी को बताया कि गत 14 अप्रैल को उन्होंने आष्टी तालुका  रानवाड़ी शिवार ग्राम के डॉ. नरेंद्र कडू के खेत का समतलीकरण का काम कंपनी के दो जेसीबी मशीन से आरंभ किया था. 16 अप्रैल को मशीन ख़राब हो गयी. मशीन दुरुस्त होने पर इस कारण उस दिन रात्रि 9 बजे फिर काम शुरू हो पाया.

रात्रि में काम करने का आरोप लगाते हुए उप विभागीय अधिकारी कोरडे ने दोनों मशीन जब्त कर छोड़ने के लिए 25 हजार रुपये की मांग की. इसकी शिकायत देशमुख ने एसीबी से की.

उनकी शिकायत पर तुरंत कार्रवाई करते हुए एसीबी नागपुर के प्रभारी पुलिस उपायुक्त वसंत शिरभाते एवं अपर पुलिस उपायुक्त संजय पुरंदरे के मार्गदर्शन में वर्धा के पुलिस उपाधीक्षक (एसीबी) अनिल लोखंडे और दिनकर ठोसरे, तथा पुलिस निरीक्षक प्रदीप चौगांवकर ने एक मध्यस्थ दीपक मोटवानी से 25 हजार रुपये रिश्वत लेते हुए उप विभागीय अधिकारी कोरडे को रंगेहाथ गिरफतार कर लिया.

Pic-9