Published On : Sun, Mar 3rd, 2019

जानिए, क्या फायदे है पनीर के फूल के , डायबिटिज वालो के लिए.

देखा जाए तो खराब लाइफस्‍टाइल और खान पान के गलत तरीकों के वजह से हम में से कई लोग मधुमेह यानी डाइबिटीज की बीमारी से घिरे हुए हैं। डायबिटीज आजकल में सामान्‍य बीमारियों में से एक है लेकिन अगर इसका सही समय पर सही इलाज न‍हीं किया गया तो ये जानलेवा भी साबित हो सकता है। डायबिटीज को शरीर में कई मेटाबॉलिक डिसऑर्डर की जड़ माना जाता है और जिसकी वजह से ब्लड शुगर लेवल भी बढ़ने लगता है।इंसुल‍िन की असंतुलित मात्रा की वजह से मोटापा और हृदय से जुड़े रोग होने की सम्‍भावना रहती है। हालांकि ये बात सही है कि मधुमेह की बीमारी को जड़ से खत्‍म नहीं किया जा सकता है लेकिन सही इलाज से इसे काफी हद तक निंयत्रित किया जा सकता है।मधुमेह को नियंत्रित करने के ल‍िए विशेषज्ञ कई तरह के घरेलू उपाय भी सुझाव करते है। इन्‍हीं में से एक है ‘पनीर का फूल‘ जिसे पनीर डोडा और इंडियन रेनेट के नाम से भी जाना जाता है।

विशेषज्ञों की मानें तो ये फूल शरीर में इंसुलिन के बेहतर उपयोग के लिए पेनक्रियाज (अग्न्याशय) के बीटा सेल को हील करने का काम करता है। अगर कम मात्रा में ही सही पर इसे रोज लिया जाए तो ये इंसुल‍िन को संतुलित रखा जाता है। हालांकि अगर आप इसका सेवन शुरु कर रहे हैं तो बेहतर रिजल्‍ट के ल‍िए आपको कुछ बातों का ध्‍यान रखना होगा। बिस्किट, मिठाईयों और प्रोसेस्ड फूड्स से जैसे आहार से किनारा करना होगा। इसके साथ एक्‍सरसाइज करके और संतुलित आहार लेकर आप इस औषधी का बेहतर लाभ उठा सकते है। इसका इस्‍तेमाल करना बहुत ही आसान है। रोज रात सोने से पहले 10 से 12 फूल एक कांच के गिलास में डालकर पूरी रात के ल‍िए छोड़ दे। फिर सुबह खाली पेट इस पानी को छानकर पी जाएं। संतुलित आहार और पनीर के फूल की मदद से हम निश्चित तौर पर इंसुलिन लेवल को कंट्रोल कर सकते हैं। ये आपको आसानी से किसी भी किराने के दुकान, मेडिकल स्‍टोर या ऑनलाइन मिल जाता है।

Advertisement

कहा खरीद सकते है आप :

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement