Published On : Sat, Mar 14th, 2015

भद्रावती : राशन और केरोसिन के बजाय नगद राशी राशनकार्ड धारक के खाते में जमा करें – वनिता रेवते

 

  • राशन और केरोसिन की हो रही कालाबाजारी
  • शिकायत के बाउजूद नही हो रही कार्रवाई
  • गरीबों को नही मिलता राशन और केरोसिन

Vanita Rewate
भद्रावती (चंद्रपुर)। गरीब को मिलने वाला राशन और केरोसिन राशनकार्ड धारकों को न देते हुए अधिक दाम में दूसरों को बेचकर राशन और केरोसिन की कालाबाजारी हो रही है. इस संदर्भ में कई शिकायत करने के बाउजूद इस पर कोईकरवाई नही होती. राशन और केरोसिन की कालाबाजारी को रोकने के लिए गैस सबसिडी की रकम जिस तरह ग्राहक के खाते में जमा हो रही है. उसी तरह राशन और केरोसिन की रकम सीधे कार्ड धारक के बैंक खाते में जमा करने की मांग भद्रावती पंचायत समिती पूर्व उपसभापति वनिता राजेश रेवते ने की है.

सरकार की गरीबों तथा बी.पी.एल. धारकों के लिए कम कीमत के राशन दुकान और केरोसिन के परवाना धारकों के माध्यम से राशन और केरोसिन देने की योजना है. लेकिन अधिकतर लोगों का अनाज और केरोसिन धारक उन्हें तुम्हारा कोटा नही आया कहकर बैरंग लौटा देते है, और फिर इन गरीबों का अनाज और केरोसिन दुकान के पिछवाडे से अधिक कीमत में बेचते है. इस संदर्भ में कई बार तहसीलदार से शिकायत की गई. लेकिन तहसीलदार उनपर किसी भी प्रकार की कार्रवाई नही करते. इसमें तहसीलदार कार्यालय अधिकारी और राशन दुकानदार केरोसिन बिक्रेता से साठ-गांठ होने का आरोप वनिता रेवते ने लगाया है. इसलिए खुली दुकानों में मिलने वाले अनाज की रकम राशनकार्ड धारकों के बैंक खाते में जमा करने की मांग खाद्यान एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री गिरीश बापट, मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस तथा जिलाधिकारी को पत्र लिखकर की है.