Published On : Fri, Sep 28th, 2018

रुके प्रस्तावों पर प्रशासन के हस्ताक्षर न हुए तो नहीं होने देंगे विशेष सभा

नागपुर: पिछले ५ माह से शहर का विकास ठप सा पड़ा हुआ है. जिसके जिम्मेदार सत्तापक्ष की कमजोर पकड़ के साथ ही साथ मनपा के प्रभारी आयुक्त की हैं. आज के आज प्रशासन ने ठोस निर्णय नहीं लिया तो कल की विशेष सभा नहीं होने देंगे. यह चेतावनी मनपा में विपक्ष नेता तानाजी वनवे ने प्रभारी आयुक्त को देकर प्रशासन में हड़कंप मचा दिया.

याद रहे कि मनपा में कुछ को छोड़ कर शेष पक्ष – विपक्ष के तमाम नगरसेवकों का प्रस्ताव प्रभारी आयुक्त ने रोक रखा है.यह प्रस्ताव महत्वपूर्ण तो है ही जो कार्यादेश या फिर टेंडर के मुहाने पर पहुंच चुका है.

इस ओर मनपा प्रशासन ध्यान देने के बजाय मनपा प्रशासन और सत्तापक्ष गंभीरता न दिखाते हुए भाजपा के बड़े नेताओं के मंसूबे के प्रकल्पों पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं. इस कठिन घड़ी में जिसकी तत्काल जरूरत नहीं है. वनवे ने प्रभारी आयुक्त को साफ शब्दों में कह दिया कि आज उन्होंने ठोस निर्णय नहीं लिया तो कल विशेष सभा बाधित करेंगे, जिसकी सम्पूर्ण जिम्मेदारी प्रशासन की होगी.