Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Fri, Aug 17th, 2018

    केलीबाग, गांधीबाग के बाद अब सीताबर्डी मेन रोड पर प्रशासन की नजर

    नागपुर: नगर प्रशासन द्वारा शहर के मुख्य बाजार क्षेत्रों में ट्राफिक की समस्या के निराकरण और बाजारों को नागरिकों के लिए सुविधाजनक बनाने के लिए कार्य शुरू कर दिया गया है. महल में केलीबाग रोड को चौड़ा करने के लिए अदालत के आदेश के चलते दूकानों को तोड़ने की कार्रवाई तो शुरू कर ही दी गई है, जहां रोड काफी चौड़ा व सुविधाजनक हो जाएगा. वहीं करीब 18 वर्षों से लटके पुराना भंडारा रोड की मार्किंग भी शुरू कर दी गई है.

    इस रोड के 60 फीट चौड़ा होने से जहां बाजार क्षेत्र में ट्राफिक समस्या का निराकरण होगा वहीं बाजार में आने वाले नागरिकों की परेशानियां भी कम होंगी. केलीबाग और पुराना भंडारा रोड के बाद अब प्रशासन सीताबर्डी मेन रोड को भी चौड़ा करने की तैयारी में जुटा है. जानकारी मिली है कि मेन रोड में मोदी नंबर 3 के बाद स्थित पारेख ज्वेलर्स से लेकर लोहा पुल तक मार्ग चौड़ाईकरण की कार्यवाही पर गंभीरता से विचार किया जा रहा है.

    बेहद संकरा है यहां से रोड
    वेरायटी चौक से पारेख ज्वेलर्स तक तो मेन रोड अच्छा-खासा चौड़ा है लेकिन यहां से आगे लोहापुल तक यह रोड सिंगल रोड हो गया है. जिसके चलते करीब 300 मीटर तक के इस हिस्से में वन-वे होने के बावजूद ट्राफिक की रेलमपेल बनी रहती है. यहां से रोड के बायीं ओर की दूकानें काफी आगे तक बनी हुई हैं. पारेख ज्वेलर्स से लेकर लोहापुल तक यदि रोड को भी चौड़ा कर दिया जाता है तो सीताबर्डी बाजार और भी सुविधाजनक हो जाएगा. जानकारी मिली है कि प्रशासन महल के केलीबाग और गांधीबाग के पुराना भंडारा रोड को चौड़ा करने के साथ ही अब सीताबर्डी मेन रोड के इस हिस्से को भी चौड़ा करने पर गंभीरता से विचार कर रहा है.

    तो वन-वे से भी मिलेगी मुक्ति
    बर्डी मेन रोड शहर की शान है. बाहरगांव से आने वाले नागरिक सीताबर्डी बाजार जरूर जाते हैं क्योंकि यहां हर रेंज का सामान उन्हें मिल जाता है. संडे को तो यहां मेला सा लगता है. हर दिन भीड़भाड़ के चलते ही इस रोड को वन-वे कर दिया गया है ताकि ट्राफिक जाम न हो. इसका एक कारण पारख ज्वेलर्स से लेकर लोहापुल तक रोड का बेहद संकरा होना भी है.

    लोहापुल से आने वाले ट्राफिक को वन-वे होने के कारण शनि मंदिर की ओर से घूमकर गलियों में घुसकर बाजार आना पड़ता है. लोहापुल की दिशा से मेन रोड को बैरिकेड लगाकर बंद कर दिया गया है. अगर 300 मीटर के उपरोक्त हिस्से को भी चौड़ा कर दिया जाता है तो इस रोड को वन-वे रखने की जरूरत ही नहीं पड़ेगी. दोनों ओर से ट्राफिक का आवागमन सुचारु हो सकता है.

    संकरे हिस्से में भी अतिक्रमण
    फिलहाल तो हालत ऐसी है कि बर्डी मेन रोड में कपड़े, सौंदर्य प्रसाधन, बैग, फल आदि सामान बेचने वाले बीच रोड तक अतिक्रमण कर कब्जा जमाए बैठते हैं. कई बार इन्हें हटाने की कार्रवाई भी हुई लेकिन हाकर्स हाईकोर्ट चले गए और मामला अब तक लटका हुआ है.

    पारेख ज्वेलर्स से लोहापुल तक के संकरे हिस्से में भी अतिक्रमणकारियों के चलते रोड एक संकरी गली का रूप ले लेता है जिसके चलते ट्राफिक जाम की परेशानी का सामना नागरिकों को करना पड़ता है. नागरिकों द्वारा भी मांग की जा रही है कि जिस तरह महल व गांधीबाग में सड़कों को चौड़ा करने की कार्यवाही की जा रही है उसी तर्ज पर बर्डी मेन रोड के इस संकरे हिस्से को चौड़ा करने की कार्यवाही भी जल्द की जानी चाहिए.


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145