Published On : Sat, Jul 14th, 2018

खूनी गड्ढों के चलते शिवसैनिक नाराज

नागपुर: कल्याण में सड़क के गड्ढों की वजह से 5 लोगों की मौत हो गई. बावजूद इसके संबंधित प्रशासन किसी तरह के मजबूत कदम नहीं उठा पाया है.

इन सड़कों पर बड़े पैमाने पर भारी वाहन क्षमता और नियम से अधिक वजन ले चलते हैं .
इस ओवरलोड प्रणाली को परिवहन विभाग का वरदहस्त प्राप्त है. और इन्हीं के चलते रास्तों में बड़े-बड़े गड्ढे हो चुके हैं जो अब तक कुल पांच लोगों की जान ले चुके हैं.

गड्ढों के कारण लगतार राहगीरों को मौत के मुंह में धकेलनेवाली घटनाओं के चलते आज उंबडे गांव में शिव सैनिकों ने परिवहन कार्यालय परिसर में आंदोलन कर परिसर में खड़ी गाड़ियों के कांच तोड़ डाले. यही नहीं वहां उपस्थित अधिकारियों को खरी खोटी ओझा सुना दी. कल्याण पश्चिम उमरगांव के परिवहन कार्यालय पर ओवरलोड वाहनों के लिये परिवहन विभाग के अधिकारियों की सांठगांठ होने का आरोप लगाया गया.

साँठगांठ के दावों पर कितना सच है यह तो कहा नहीं जा सकता लेकिन इस पूरे इलाकों में ओवर लोडेड वाहनों को बड़ी संख्या में जरूर देखा जा सकता है. इन ओवरलोडेड वाहनों के कारण ही सड़क बदहाल हो रहे हैं जो राहगीरों के लिए ख़तरनाक साबित हो रहे हैं.

मुंबई के कल्याण में खराब सड़कों की वजह से हादसों का सिलसिला थमता दिखाई नहीं दे रहा है. लगातार हो रही इन दुर्घटनाओं को देखते हुए कल्याण वासियों और मार्ग से गुज़रनेवाले राहगीरों में दहशत का माहौल पैदा कर दिया है.

गड्ढों की बली चढ़े लोगों और हादसों का ब्योरा :
पहली मौत की घटना 2 जून को कल्याण के शिवाजी चौक पर हुई थी. 4 साल का मासूम आरोह ट्रक के नीचे आकर दम तोड़ दिया था. वो अपने माता-पिता के साथ मोटरसाइकिल पर बैठ कर जा रहा था, तभी पहली बारिश से बने गड्ढे ने हादसे को अंजाम दिया.

दूसरा हादसा 7 जुलाई को शिवाजी चौक पर ही हुआ जिसमें एक महिला की मौत हो गई. मनीषा भोईर नाम की महिला अपने पति के साथ मोटरसाइकिल पर जा रही थी, तभी गड्ढे की वजह से मोटरसाइकिल फिसल गई और पीछे बैठी मनीषा बस की चपेट में आ गई.

तीसरा हादसा- 10 जुलाई को भिवंडी कल्याण बाईपास पर गड्ढों की वजह से हिचकोले खाता ट्रक बगल के ऑटो पर जा गिरा. ऑटो में सवार 4 जख्मी हुए थे जिसमें से 2 की मौत हो गई.

चौथा हादसा- 11 जुलाई को कल्याण हाजी मलंग सड़क पर द्वारली गांव सड़क पार कर रहे बुजुर्ग का पैर गड्ढे में जाने से वो गिर गया, तभी पीछे से आ रहे ट्रक ने कुचल दिया. अन्ना नाम के बुजुर्ग पास के तबेले में काम करते थे.

बड़े पैमाने पर होती इन दुर्घटनाओं पर पीडब्ल्यूडी विभाग चुप्पी साधे हुए हैं. जबकि पुलिस प्रशास ने, जिनका यह काम भी नहीं, को इन गड्ढों को बुझाने का प्रयास आज किया.

By Narendra Puri