Published On : Mon, Jul 31st, 2017

नीतीश के गठबंधन तोड़ने के फैसले से शरद यादव नाराज, राज्यसभा में उठा सकते हैं मामला

Advertisement

सीनियर जदयू नेता शरद यादव बिहार के सीएम नीतीश कुमार के गठबंधन तोड़ने और भाजपा के साथ सरकार बनाने के फैसले से नाराज हैं। यादव के गुस्से का असर राज्यसभा में हो सकता है जहां पार्टी के 10 सदस्य हैं। यादव के नेतृत्व में दो सदस्य अली अनवर अंसारी और वीरेंद्र कुमार पहले भी नीतीश पर हमला बोल चुके हैं। सूत्रों के मुताबिक शरद यादव, नीतीश के गठबंधन तोड़ने के फैसले के पूरी तरह खिलाफ हैं।

शरद यादव कई बार सार्वजनिक तौर पर बिहार में विकास पर बोले उन्होंने कई विपक्षी नेताओं से भी बात की। उन्होंने नेताओं से कहा कि नीतीश के फैसले से उन्हें बहुत दुख पहुंचा है, हम सबको मिलकर लड़ना होगा। रविवार को शरद यादव के घर पर हुई मीटिंग में CPI नेता डी राजा और RLD चीफ अजीत सिंह ने उनसे मुलाकात की। कांग्रेस से गुलाब नबी आजाद और CPI(M)के जनरल सेक्रेटरी सीताराम येचुरी ने शुक्रवार को मीटिंग की। NCP के तारिक अनवर भी शरद यादव से मिले।

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement