Published On : Thu, Mar 26th, 2015

तलेगांव : शामजीपंत महाराज यात्रा महोत्सव संपन्न

Advertisement


Shamtipanth yatra mohatsav  (2)
तलेगांव शा. पंत (वर्धा)।
स्थानीय ग्राम देवता शामजीपंत महाराज यात्रा महोत्सव हालही में भक्त्तिपूर्ण और उत्साह के साथ संपन्न हुई. राष्ट्रीय महामार्ग क्र. 6 पर तलेगांव शामजीपंत के नाम से पहचाना जाता है. शामजीपंत महाराज तलेगांव के ग्राम देवता है ऐसा ग्रामवासियों का मानना है.

इस यात्रा महोत्सव में 9 दिन संगीतमय रामायण का कथन सुश्री रामप्रियाजी (अमरावती) ने किया. इस रामकथा का लाभ अनेक भाविकों ने लिया. उक्त कार्यक्रम में रोज सुबह आरती, हवन, हरिपाठ तथा दोपहर रामकथा ऐसा नित्यक्रम और शाम में सामुदायिक प्रार्थना ली गई. तलेगांव के प्रतिष्ठीत नागरिक पुरुषोत्तम बोडखे के खेत परिसर में शामजीपंत महाराज के पावन समाधी पर अनेक भाविकों ने मथ्था टेका.

15 मार्च को महाप्रसाद का वितरण किया गया. इस दौरान संत सयाजी महाराज की प्रमुख उपस्थिति थी. मंदिर परिसर में स्वच्छता और वृक्षारोपण कार्यक्रम गुरुदेव सेवामंडल के युवकों ने करके एक आदर्श निर्माण किया. कार्यक्रम की सफलता के लिए रामकृष्ण कोठे, डा. हेमंत ठाकरे, रमेश मुदडा, बाबूजी लढ्ढा, साहेबराव, खलील पठान, विनायक दुर्गे ने प्रयास किया.

Advertisement
Advertisement

Shamtipanth yatra mohatsav  (3)
ह.भ.प. अत्रे महाराज के हांथों वृक्षारोपण

स्थानिय ग्राम देवता शामजीपंत महाराज देवस्थान में संगीत रामकथा ज्ञानयज्ञ सप्ताह मनाया गया. इस सप्ताह के दरमियान विविध धार्मिक, सामाजिक कार्यक्रम किये गए. ह.भ.प. अत्रे महाराज के हांथो  वृक्षारोपण कार्यक्रम किया गया. इस दौरान प्रमुख अतिथि डा. हेमंत ठाकरे और अत्रे महाराज ने वृक्षारोपण का महत्त्व समझाया. कार्यक्रम का संचालन और आभार प्रदर्शन तारेश बोउखे ने किया.

Shamtipanth yatra mohatsav  (1)
सुधांशु महाराज की मुलाकात से तलेगांववासी उत्साहित

स्थानिय ग्राम देवता शामजीपंत महाराज देवस्थान में यात्रा महोत्सव में अमरावती के सुश्री रामप्रियाजी का संगीतमय रामायण कथन के दौरान अचानक आंतरराष्ट्रीय स्तर के संत ह.भ.प. सुधांशु महाराज ने कार्यक्रम स्थल पर भेट दी. जिससे तलेगांववासी उत्साहित हुए. मुलाकात के दौरान सुधांशु महाराज ने रामप्रियाजी को आशीर्वाद दिया. कार्यक्रम में डा. हेमंत ठाकरे, कपडा व्यवसायी दिलीप पवार और तलेगांव के भाविक भक्तों की उपस्थिति थी.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement