Published On : Sat, Aug 24th, 2019

मेधावी विद्यार्थियों के अधिकार के लिए किया जा रहा है ‘सेव मेरिट सेव नेशन’ का आंदोलन

नागपुर: सेव मेरिट सेव नेशन के श्रृंखला अनशन आंदोलन की शुरूआत संविधान चौक में हुई थी. जो अभी तक जारी हैं. राज्य सरकार के मराठा आरक्षण, आर्थिक आरक्षण के कारण राज्य में आरक्षण का प्रतिशत 74 प्रतिशत तक पहुंच गया है. इससे मेधावी विद्यार्थियों पर अन्याय हाे रहा है.

साथ ही नौकरियों में ओपन कैटेगरी की जगह कम हो गई है. ओपन कैटेगरी के मेधावी विद्यार्थियों को न्याय दिलाने के उद्देश्य से “सेव मेरिट सेव नेशन’ की ओर से आंदोलन की शुरूआत की गई है.

महाराष्ट्र सेव मेरिट सेव नेशन की ओर से इस मांग के लिए आंदोलन किया जा रहा है. इस आंदोलन में बैनर-पोस्टर के माध्यम से विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है. इस आंदोलन को अखिल भारतवर्षीय माहेश्वरी सभा अध्यक्ष श्याम सोनी, माहेश्वरी समाज संगठन के जिलाध्यक्ष एड. शिवबाबू गांधी, माहेश्वरी पंचायत के उपाध्यक्ष महेंद्र चांडक और गोपाल राठी, शिवरतन गांधी, बसंत सान्वल, सुषमा बांग, वंदना मूंदड़ा, दिनेश राठी, अशोक गांधी, सुमन पच्चिसिया, रमेश पच्चिसिया, डॉ. राधा जाजू, डॉ. शैलेंद्र मूंदडा, नवीन चांडक, डॉ. जगदीश कोठारी और डॉ. अर्चना कोठारी उपस्थित रहे. सेव मेरिट सेव नेशन उपक्रम में अब तक 62 संगठन एकजुट हुए हैं. भविष्य में आंदोलन और अधिक तीव्र होने की चेतावनी सेव मेरिट सेव नेशन की और से दी गई है.