Published On : Wed, Jul 10th, 2019

सर्वन कुमार सुब्रमण्यम और हरदेव सिंह जडेजा कैस्ट्रोल सुपर मेकैनिक 2019 के विजेता बने

सर्वन कुमार सुब्रमण्यम और हरदेव सिंह जडेजा भारत की अग्रणी ऑटोमोटिव एवं औद्योगिक लुब्रिकेन्ट उत्पादन कंपनी कैस्ट्रोल इंडिया द्वारा आयोजित एक भव्य फिनाले में कैस्ट्रोल सुपर मेकैनिक कॉन्टेस्ट 2019 के विजेता बने। सर्वन कुमार सुब्रमण्यम कोयंबटूर, तमिलनाडु से हैं, जो बाइक कैटेगरी में विजेता घोषित हुए, जबकि हरदेव सिंह जडेजा मोरबी, गुजरात से हैं, जिन्हों्ने कार कैटेगरी में जीत हासिल की। चेन्नई के के. जयवेल और कोल्हापुर के किशोर कलल्पा गताडे क्रमशः कार और बाइक कैटेगरी में उपविजेता रहे।

कैस्ट्रोल सुपर मेकैनिक कॉन्टेस्ट के तीसरे संस्करण में देश भर से लगभग 1.27 लाख मेकैनिकों ने भाग लिया और उनमें से 40 फाइनल स्टेज में पहुँचे। इससे उन्हें ऑटोमोटिव टेक्नो2लॉजीस और लुब्रिकेन्ट उद्योग का गहन ज्ञान मिला, साथ ही उनकी कुशलता की परीक्षा भी हुई। कैस्ट्रोल इंडिया लिमिटेड में विपणन विभाग के वाइस प्रेसिडेन्ट केदार आप्टे ने कैस्ट्रोल सुपर मेकैनिक कॉन्टेस्ट के विजेताओं को पुरस्कृत किया। पहली बार देश के दर्शक कैस्ट्रोल सुपर मेकैनिक का रियलिटी शो देखेंगे, जिससे मेकैनिकों को टेलीविजन पर आने का अवसर मिलेगा और विभिन्न एपिसोड्स में वे अपने जीवन की यात्रा बताएंगे।

इस वर्ष कैस्ट्रोल इंडिया ने 20 शहरों में मास्टरक्लास सेशंस भी चलाए, जिससे लगभग 6000 मेकैनिकों को कुशलता मिली और इसके पाठ्यक्रम का समर्थन ऑटोमोटिव स्किल डेवलपमेन्ट काउंसिल ने किया था। मेकैनिकों को अन्य ऑटोमोटिव विषयों के अलावा वाहन की नई जाँचों, अगली पीढ़ी के वाहनों के लिये डिजिटल टूल्स और बीएस6 टेक्नोनलॉजी में कुशल बनाया गया।

इस कॉन्टेस्ट के बारे में ओमर डोरमेन- प्रबंध निदेशक, कैस्ट्रोल इंडिया लिमिटेड ने कहा, ‘‘कैस्ट्रोल सुपर मेकैनिक कॉन्टेस्ट मेकैनिक समुदाय को उद्योग का नवीनतम ज्ञान देने और उन्हें अपने पेशे पर गर्व करने के लिये प्रोत्साहन देने का लक्ष्य रखता है। यह देखना सुखद है कि मेकैनिक न केवल अपने कार्य में उत्कृष्टता का प्रदर्शन करते हैं, बल्कि इस प्रतियोगिता के जरिये अपनी आकांक्षाओं को नई ऊँचाई देते हैं। उनकी प्रगति और सफलता कैस्ट्रोल इंडिया की मेकैनिक समुदाय को सशक्त करने की प्रतिबद्धता दर्शाती है, जो भारत को चलायमान रखते हैं।’’