| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Mon, Oct 1st, 2018

    संघ-पाकिस्तान,बीजेपी-ब्रितानी सरकार एक दूसरे की पूरक- रणदीप सुरजेवाला

    नागपुर: दो अक्टूबर गाँधी जयंती के अवसर पर कांग्रेस की राष्ट्रीय कांग्रेस की बैठक 70 वर्ष बाद फिर एक बार सेवाग्राम में होने जा रही है। इस बैठक से पूर्व नागपुर में पत्रकारों से चर्चा करते हुए पार्टी के प्रमुख प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने संघ और बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। सुरजेवाला ने कहाँ जैसी सोच पाकिस्तान की है वैसी ही सोच राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की भी है। उन्होंने देश में बीजेपी राज की तुलना ब्रितानी शासनकाल ने किया वही संघ की तुलना पाकिस्तान से कर डाली। सुरजेवाला के मुताबिक पाकिस्तान बंटवारे,हिंसा और अतिवाद का द्वैतक है ठीक उसी तरह की सोच संघ की भी है।

    बीजेपी – ब्रितानी सरकार,संघ और पाकिस्तान एक दूसरे की पूरक है। आरएसएस एक ऐसी संस्था थी जो अंग्रेजों की गुलाम रही इस संस्था का आधार हिंसा है बंटवारा और नफ़रत फैलाना है। हालाँकि उन्होंने एक सवाल के जवाब में हालही में हुए संघ के कार्यक्रम भविष्य का भारत और संघ की सोच में संघ प्रमुख डॉ मोहन भागवत द्वारा कांग्रेस के लिए दिए गए बयान पर एक बुजुर्ग के नाते उनका सम्मान करने की बात कहीं। यथार्थ और सत्य का कोई विकल्प नहीं हो सकता स्वतंत्रता आंदोलन में कांग्रेस का योगदान था। यह सत्य है इसे सभी को मानना चाहिए।

    सेवाग्राम में कांग्रेस की अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा के आयोजन के उद्देश्य को बताते हुए सुरजेवाला ने कहाँ की देश में व्याप्त लूट-झूठ,भय और बंटवारे की मुक्ति के लिए फिर सेवाग्राम का लक्ष्य पार्टी द्वारा सुनिश्चित किया गया है। 71 साल पहले जिस तरह की हुकूमत ब्रितानी सरकार की थी वहीं दौर वर्तमान सरकार के माहौल में हो गया है। अंग्रेजों से मुक्ति के लिए सेवाग्राम ही धरती से ही भारत छोड़ो आंदोलन का नारा कांग्रेस द्वारा दिया गया था। एक बार फिर अंग्रेजों की ही राह चल रही मोदी सरकार से देश को मुक्त कराने के लिए कांग्रेस की बैठक का सेवाग्राम में आयोजन हो रहा है। देश सामाजिक,आर्थिक,राजनीतिक संक्रमणकाल के दौर से गुजर रहा है। ऐसे में राष्ट्रपिता की 150 वी जयंती के अवसर पर होने वाली ये बैठक विशेष होने की जानकारी भी उन्होंने दी।

    प्रेस क्लब में आयोजित पत्रकार वार्ता में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अशोक चव्हाण, विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष राधाकृष्ण विखे पाटील, कांग्रेस सचिव यशोमति ठाकुर, कांग्रेस नेता विजय वडेट्‌टीवार, प्रदेश प्रवक्ता अतुल लोंढे, सचिन सावंत,विशाल मुत्तेमवार उपस्थित थे।

    सुरजेवाला की प्रमुख बातें
    -ब्रितानी हुकूमत जिस तरह से देश के संसाधन को लुटाती थी। वही काम आज हो रहा है सरकार बैंक लुटेरों को देश से बाहर भागने का काम कर रही है।
    -फूट डालो राज करो की निति अपनाते हुए साम्प्रदायिकता,धर्म,जाति,क्षेत्रीयता का बीज बोकर देश को बांटा जा रहा है।
    -दलितों,आदिवासियों,वंचितों का शोषण करना सरकार के डीएनए में है।
    -जीएसटी,नोटबंदी जैसे जनविरोधी फैसले किये जा रहे है।
    -मुठ्ठी भर अमीरों का फ़ायदा किया जा रहा है। ये क्रोनी कैपिटलिजम का उदहारण है।
    -पुलिस,ईडी,सीबीआई का इस्तेमाल पर विरोध में उठने वाली आवाज़ को डराया जा रहा है।
    -प्रधानमंत्री विदेश में घूमकर देश की बदनामी कर रहे है।
    -सिर्फ गाँधी का नाम लेने से कोई उनका अनुयायी नहीं हो जायेगा। गाँधी-गोड़से विचार की लड़ाई हमेशा चलती आयी है।
    -गाँधी के विचार सत्य पर आधारित है जबकि गोड़से के हिंसा पर।
    -गाँधी का संघर्ष बराबरी और न्याय का है।

    मोदी सरकार पब्लिक मनी लूट सरकार
    सुरजेवाला ने कहाँ की मोदी सरकार जनता के पैसे को लूटने की सरकार है। राफेल विमान सौदे में जनता के 41 हज़ार 205 करोड़ रुपयों की लूट हो गई। जिस समय यह सौदा हुआ उस वक्त सिर्फ दो शख्श मौजूद थे एक मोदी दूसरे फ़्रांस के राष्ट्रपति एक कह रहा है की सरकार ने निजी कंपनी को ठेका देने के लिए कहाँ गया दूसरा मौन है। इससे क्या समझा जाये। देश की सबसे पुरानी विमान बनाने वाली कंपनी एचसीएल जिनसे 4060 विमान बनाये है उसे नजरअंदाज कर एक ऐसे कंपनी को मध्यस्त बनाया गया जिसका कोई अनुभव ही नहीं है। उन्होंने साफ़ किया की पार्टी इस मसले को लेकर सुप्रीम कोर्ट नहीं जाएगी सबसे बड़ी जनता की अदालत होती है। वही फैसला होगा। जनता मौन मोदी को बोल मोदी में बदलेगी।

    बेगानी शादी में अब्दुल्ला दीवाना
    राफेलडील पर मोदी के बचाव वाले एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार के बयान पर पूछे गए प्रश्न पर सुरजेवाला ने कहाँ की उनकी पार्टी ने ही साफ़ किया है की पवार ने किसी का बचाव नहीं किया। उन्होंने कई सवाल भी उठाये जिनका जवाब नहीं दिया जा रहा। इस मसले पर जेपीसी ( जॉइंट पार्लियामेंट्री कमिटी) का गठन करने के बजाय बेगानी शादी में अब्दुल्ला दीवाना बना जा रहा है।

    चौकीदार की चोरी पकड़े जाने पर क्या कहे हरिश्चंद्र ?
    आज बोलै जा रहा है की प्रधानमंत्री को चोर क्यूँ बोलै जा रहा है। लेकिन जब बोफोर्स के समय या पिछली सरकार में डॉ मनमोहन सिंह को आज के केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली और सुषमा स्वराज पीएम चोर है कहते थे उसका क्या,अब जब चौकीदार की चोरी पकड़ी गई है तो उसे हम क्या हरिश्चद्र कहे ?

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145