Published On : Wed, Aug 2nd, 2017

बंगलूरू में IT छापेमारी पर राज्यसभा में हंगामा, कांग्रेसी MP बोले- नहीं चलेगी तानाशाही

बंगलुरू के रिजॉर्ट में इनकम टैक्स विभाग की छापेमारी पर राज्यसभा में कांग्रेस समेत पूरे विपक्ष ने हंगामा किया। मामले को उठाते हुए कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा कि गुजरात के विधायक जिस रिजॉर्ट में रुके हुए हैं, वहां पर छापेमारी होना गलत है। सरकार ने ऐसे विधायकों को टारगेट पर लिया है, जो भाजपा के पक्ष में वोट नहीं देंगे। विपक्षी सांसदों के वेल में पहुंचने पर उपसभापति पीजे कुरियन ने सदन को 10 मिनट के लिए स्थगित कर दिया था।

विपक्ष के आरोपों का जवाब देते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि छापेमारी पूरे देश में की गई है। इनकम टैक्स अधिकारियों ने किसी विधायक की तलाशी नहीं ली है। केवल एक व्यक्ति की तलाशी ली जा रही है।

सदन में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि डर और भय का माहौल पूरे देश में है। गुजरात के कांग्रेस विधायकों को अपने पाले में करने के लिए भाजपा नीत सरकार नए नए हथकंडे अपना रही है।

लोकतंत्र की हत्या की जा रही है। पहले राज्य सरकार तमाम हथकंडे अपना रही थी, अब केंद्र सरकार सीबीआई, आईटी और ईडी के माध्यम से विधायकों को परेशान कर रही है। शून्य काल के दौरान सदस्य उपसभापति के आसान के पास आकर तानाशाही नहीं चलेगी के नारे लगाने लगे।


कर्नाटक के उर्जामंत्री डी के शिवकुमार के घर के साथ ही 39 जगहों पर छापेमारी चल रही है। कर्नाटक के उर्जामंत्री डी के शिवकुमार गुजरात कांग्रेस के विधायकों के मेजबान हैं और उन्हीं की देखरेख में कांग्रेस विधायकों को गुजरात से लाकर यहां रखा गया है। आईटी डिपार्टमेंट की छापेमारी में शिवकुमार के दिल्ली के सफदरजंग एन्क्लेव स्थित घर से 5 करोड़ रुपए बरामद हुए हैं। वहीं, कांग्रेस ने इसे बीजेपी की बौखलाहट बताया है और कहा है कि बीजेपी सिर्फ 1 राज्यसभा सीट जीतने के लिए हर गलत कदम उठा रही है।