Published On : Thu, Jan 22nd, 2015

देवली : आंगनवाडी सेविकाओं का मानधन बढ़ा


आयकट संघटना के प्रयासों का फल

aanganwadi sevika

File pic


देवली (वर्धा)
। केंद्र सरकार ने मिनी आंगनवाडी सेविकाओं के मानधन में जुलाई – 2013 से 750 रूपये दरमाह बढ़त की थी. लेकिन राज्य सरकार ने इसके लिए आदेश नही निकाला था. जिससें आयकट प्रणित महाराष्ट्र राज्य आंगनवाडी बालवाड़ी कर्मचारी युनिअन के राज्य कार्याध्यक्ष दिलीप उटाने ने राज्य सरकार की ओर से मिनी आंगनवाडी सेविकाओं को केंद्र शासन ने जाहिर किये मानधन में बढ़त करके तुरंत लागु करने के लिए महिला और बालविकास मंत्री पंकजा मुंडे तथा वित्त मंत्री सुधिर मुनगंटीवार को ज्ञापन सौंपा.

केंद्र सरकार ने मानधन बढ़ाने के लिए 15 जुलाई 2013 को संपूर्ण निधी राज्य सरकार को दी थी. फिर भी राज्य सरकार ने मानधन बढ़ाने का आदेश जारी नही किया. तब से मिनी आंगनवाडी सेविकाओं को आर्थिक नुकसान हुआ है. इसके लिए आयकट संघटना की ओर से मिनी आंगनवाडी सेविका का स्वतंत्र आंदोलन आझाद मैदान मुंबई में किया गया था. इस आंदोलन में पंकजा मुंडे ने प्रलंबित मिनी आंगनवाडी सेविका के  मानधन का प्रश्न सुलझाया जायेगा ऐसा मौखिक आश्वासन दिया था. इसके अनुसार शासन ने 19 जनवरी 2015 को शासन ने आदेश जारी किया और मिनी आंगनवाडी सेविका का जुलाई 2013 से मानधन 750 रूपये बढ़ाने का जाहिर किया.

राज्य के 10115 मिनी आंगनवाडी सेविकाओं को बढ़ा हुआ मानधन मिलेगा. अभी केंद्र सरकार के 2250 और राज्य सरकार के 1000 ऐसे कुल 3250 रूपये प्रतिमाह मानधन मिलेगा. तथा जुलाई 2013 से जनवरी 2015 ऐसा 18 माह का बकाया 13500 मानधन मिलेगा. मानधन बढ़ाने के लिए विशेष प्रयास राज्य कार्याध्यक्ष दिलीप उटाने का आभार वर्धा जिले के सुधा दिडपाये, अर्चना दोडके, शालिनी वाघ, पुष्पा आत्राम, शशिकला चौधरी, बबिता चिमोटे, आदि संघटना के जिला पदाधिकारी ने माना.

aanganwadi sevika

File pic