Published On : Fri, Aug 20th, 2021

नदी-नालों पर से शीघ्र हटाएं अतिक्रमण, महापौर दयाशंकर तिवारी ने दिए निर्देश

नागपुर. नागपुर महानगर प्रदेश विकास प्राधिकरण के साथ मिलकर संयुक्त रूप से मौजा गोंन्ही सीम और मौजा नरसाला की सीमा से लगी पोहरा नदी और उससे जुड़े नालों पर से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई करने के निर्देश महापौर दयाशंकर तिवारी ने मनपा को दिए. मनपा में इस संदर्भ में विशेष बैठक का आयोजन किया गया. विधायक टेकचंद सावरकर, जिलाधिकारी आर. विमला, मनपा आयुक्त राधाकृष्णन बी., एनएमआरडीए के महानगर आयुक्त मनोजकुमार सूर्यवंशी, अति. आयुक्त राम जोशी, मुख्य अभियंता लीना उपाध्ये, अधीक्षक अभियंता अभय पोहेकर, कार्यकारी अभियंता डॉ. श्वेता बैनर्जी और राजेश भुतकर उपस्थित थे.

कुछ बिल्डरों ने किया है अवैध निर्माण
चर्चा के दौरान अधिकारियों ने कहा कि नरसाला परिसर से बहने वाले नाले को प्राकृतिक प्रवाह को रोककर कुछ बिल्डरों द्वारा अवैध निर्माण किया है जिससे नाले की चौड़ाई कम होने से नाले का गंदा पानी आसपास के परिसर में बहने लगा है. आलम यह है कि गर्मियों में भी यह पानी खुले भूखंडों पर जमा रहता है. वर्तमान में बारिश का पानी नाले में जमा होने से प्राकृतिक प्रवाह में बाधाएं उत्पन्न हो गई हैं जिससे किसी भी समय बाढ़ जैसी स्थिति होने से इनकार नहीं किया जा सकता है. इसके अलावा लोगों के स्वास्थ्य पर भी इसका असर पड़ सकता है.

नापजोख करें जिलाधिकारी कार्यालय विधायक टेकचंद सावरकर ने कहा कि नाले का प्राकृतिक प्रवाह सुचारु करना जरूरी है जिसके लिए मनपा और एनएमआरडीए की ओर से संयुक्त कार्रवाई करना आवश्यक है. इसी तरह जिलाधिकारी कार्यालय अंतर्गत आने वाले भूमि अभिलेख विभाग के माध्यम से नाले की चौड़ाई को लेकर नापजोख करने के निर्देश भी उन्होंने दिए. चर्चा के दौरान महापौर दयाशंकर तिवारी ने अवैध रूप से किए गए निर्माण कार्य के लिए डेवलपर को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए. साथ ही जिन्होंने नाले पर अतिक्रमण कर प्रवाह रोका हो उनके खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश प्रशासन को दिए.