Published On : Thu, Mar 22nd, 2018

… 39 भारतीयों की मौत की खबर मीडिया से गायब, लो हो गया समाधान

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि देश की समस्या यह है कि 39 भारतीय इराक में मारे गए हैं, सरकार का झूठ पकड़ा गया है। वहीं इसका समाधान कुछ इस तरह निकलता है कि मीडिया कांग्रेस और डाटा चोरी पर स्टोरी बनाएं। समस्या का परिणाम यह निकलता है कि मीडिया से 39 भारतीयों की मौत की खबर रडार से गायब हो गए और अब समस्या का समाधान हो गया।
उधर इराक ने कहा है कि लापता 39 भारतीयों को आतंकी संगठन आईएसआईएस ने साल 2014 में किडनैप कर लिया था। और सभी भारतीयों की हत्या कर दी थी। जांच में सामने आया है कि ज्यादातर भारतीयों के सिर में गोली मारी गई है।

इराक के स्वास्थ्य मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले फोरेंसिक विभाग के प्रमुख डॉ जैद अली अब्बास ने बताया कि शवों को मोसुल के करीब बादुश नाम के टील से लाया गया। इन शवों को कब्र से खोदकर बाहर निकाला गया था। ऐसे में उनकी पहचान कर पाना मुश्किल था। डॉक्टर के मुताबिक ज्यादातर के सिर में गोली मारी गई थी

आपको बता दें कि इराक में साल 2014 में 40 भारतीय लापता हो गए थे। जिनमें से 39 की हत्या की पुष्टि मंगलवार को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने की थी। उन्होंने कहा था कि शवों की पहचान डीएनए के मिलान से की गई है।

राज्यसभा में उन्होंने कहा था कि लापता सभी 39 भारतीय अब जिंदा नहीं हैं। उन्होंने आगे कहा कि ये आतंकी संगठन आईएसआईएस के हाथों मारे गए हैं। वहीं, 40वां शख्स मुसलमान बनकर भागने में सफल रहा। भागने वाले शख्स का नाम हरजीत मसीह है। ये सभी भारतीय वहां काम की तलाश में गए थे।