Published On : Mon, Feb 10th, 2020

राज्य में राज्यसभा व विधानपरिषद चुनाव से सरगर्मी बढ़ी

– पुनः नियुक्ति के लिए नागपुर,विदर्भ के नेता-कार्यकर्ता सक्रिय हुए

नागपुर: महाराष्ट्र में राज्यसभा और विधानपरिषद के सदस्यों का कार्यकाल समाप्ति की ओर हैं.अगले ५ माह में राज्यसभा के ७,सीधे विधानपरिषद के ८,शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के २,राज्यपाल कोटे के १२ और स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के ३ सीटों का चुनाव होने जा रहा हैं.इनमें नागपुर के ३ एमएलसी प्रकाश गजभिये,जोगेंद्र कवाड़े व अनिल सोले का कार्यकाल भी समाप्त होंगा। उक्त कुल सीटों में नागपुर व विदर्भ को ज्यादा से ज्यादा प्रतिनिधित्व मिले,इसलिए सर्वपक्षीय दावेदार सक्रिय हो गए हैं.

अप्रैल में राज्यसभा के ७ सीटों के लिए चुनाव

महाराष्ट्र से राज्यसभा के ७ सदस्यों का कार्यकाल अप्रैल माह में समाप्त हो रहा.इनमें एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार व प्रख्यात वकील मजीद मेमन,शिवसेना के राजकुमार धूत,कांग्रेस के हुसैन दलवाई,आरपीआई के रामदास आठवले,भाजपा के अमर शंकर साबले और निर्दलीय संजय काकड़े का समावेश हैं.

अप्रैल में एमएलसी ८ सदस्यों का हो रहा कार्यकाल समाप्त

महाराष्ट्र राज्य के विधानपरिषद के ८ सदस्यों का अप्रैल में कार्यकाल समाप्त हो रहा.इनमें कांग्रेस के हरिसिंह राठौड़,शिवसेना की नीलम गोर्हे,एनसीपी के आनंद ठाकुर,किरण पावसकर,हेमंत टकले और भाजपा के अरुण अड़सड़,स्मिता वाघ,पृथ्वीराज देशमुख का समावेश हैं.एमएलसी की १ सीट पहले से ही रिक्त बताई जा रही हैं.

अप्रैल-जुलाई में शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र का चुनाव

शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से वर्ष २०१४ में विधानपरिषद सदस्य बने पुणे के दत्तात्रय सावंत और अमरावती के श्रीकांत देशपांडे का कार्यकाल क्रमशः जुलाई व अप्रैल में समाप्त होने जा रहा.इन रिक्त पदों के लिए इन्हीं माह में चुनाव संभावित हैं.

जून में १० एमएलसी का कार्यकाल समाप्त

राज्यपाल द्वारा मनोनीत,इनमें ५ कांग्रेस कोटे से हुस्नबानू निज़ामुद्दीन खलीफ़,अनंत गाडगीळ,जनार्दन चांदुरकर,आनंदराव राघोजी पाटिल, रामहरि गोविंदराव रूपनवर, ४ एनसीपी कोटे से प्रकाश गजभिए,विद्या अजित चव्हाण,ख्वाजा बेग,जगन्नाथ शिंदे और १ आरपीआई कोटे से जोगेंद्र कवाड़े नियुक्त किये गए थे.जिनका कार्यकाल जून में समाप्त होने जा रहा.वैसे राज्यपाल कोटे से १२ सदस्यों को मनोनीत कर विधानपरिषद भेजा जाता हैं,पिछली दफे सिर्फ १० को ही वर्ष २०१४ में मनोनीत किया गया था,जिनका ६ वर्षीय कार्यकाल होता हैं.

जुलाई में स्नातक निर्वाचन क्षेत्र का चुनाव

पुणे,औरंगाबाद व नागपुर विभाग में जुलाई माह में स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से विधानपरिषद सदस्य का चुनाव होने वाला हैं.फ़िलहाल पुणे स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से विधानपरिषद का सीट रिक्त हैं और औरंगाबाद व नागपुर विभाग से प्रतिनिधित्व करने वाले क्रमशः सतीश चव्हाण व अनिल सोले का कार्यकाल जुलाई में समाप्त हो रहा हैं.