Published On : Wed, Mar 22nd, 2017

सदन के भीतर विरोध करने पर 31 दिसंबर तक 19 विधायक निलंबित


नागपुर:
 बजट सत्र के दौरान किसान कर्ज माफी को लेकर विरोध करनेवाले 19 विधायकों को 31 दिसंबर कर निलंबित करने के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान कर दी गई। 18 मार्च को वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने बजट पेश किया था। इस दौरान विरोधी दल के नेताओं ने सदन के भीतर ताली बजाकर विरोध किया था। बैनर दिखाए थे। निलंबन की इस कार्रवाई की गाज राष्ट्रवादी कांग्रेस के विधायक जीतेंद्र आव्हाड, भास्कर जाधव, कांग्रेस के अब्दुल सत्तार के साथ अन्य विधायकों का समावेश है। निलंबित इन विधायकों पर सदन के भीतर हंगामा मचाते हुए बैनर लहराते हुए नारेबाजी करने के साथ अवमान करवे और बजट की प्रति को जलाने जैसी गतिविधियों से सदन की प्रतिमा मलीन होने और अवमान होने का आरोप लगाते हुए यह कार्रवाई की गई।

निलंबित इन विधायोंकों के नाम इस प्रकार है

1.अमर काले – काँग्रेस,
2.भास्कर जाधव – राष्ट्रवादी
3.विजय वडेट्टीवार- काँग्रेस
4.जीतेंद्र आव्हाड – राष्ट्रवादी कांग्रेस
5.हर्षवर्धन सकपाल – कांग्रेस
6.मधुसूदन केंद्रे – राष्ट्रवादी कांग्रेस
7.अब्दुल सत्तार – काँग्रेस
8.संग्राम जगताप – राष्ट्रवादी कांग्रेस
9.अवधूत तटकरे – राष्ट्रवादी कांग्रेस
10.डी.पी. सावंत – कांग्रेस
11.संग्राम थोपटे – काग्रेस
12.अमित झनक – काँग्रेस
13.कुणाल पाटील – कांग्रेस
14.दीपक चव्हाण – राष्ट्रवादी कांग्रेस
15.राहुल बोंद्रे – कांग्रेस
16.नरहरी जिरवाळ – राष्ट्रवादी कांग्रेस
17.वैभव पिचड- राष्ट्रवादी कांग्रेस
18.जयकुमार गोरे – कांग्रेस
19.दत्ता भरणे – राष्ट्रवादी कांग्रेस