Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Fri, Dec 14th, 2018

    पॉर्न मूवी देखकर बालक से दुष्कर्म

    नागपुर: बच्चों के हाथ में मोबाइल देना कितना घातक हो सकता है, इसका जीताजागता उदाहरण कलमना थाने में दर्ज हुए एक प्रकरण में देखने को मिला. बच्चा स्कूल से लौटकर अपनी मां के मोबाइल पर गेम खेलता था. पड़ोसी किशोर से उसका मोबाइल लेकर पोर्न मूवी देखता था. इतना ही नहीं उसने बालक के साथ दुष्कर्म करना शुरू कर दिया. यह बात सामने आने के बाद परिजनों के पैरों तले जमीन खिसक गई. पुलिस भी इस घटना से आश्चर्यचकित है. क्यूंकि दुष्कर्म करने वाला किशोर केवल 14 वर्ष का है. फिलहाल वह पुलिस की हिरासत में है.

    पुलिस ने 7 वर्षीय बालक की मां की शिकायत पर मामला दर्ज किया है. पीड़ित बालक पहली कक्षा में पढ़ता है, जबकि पड़ोस में रहने वाला किशोर मदरसे में पढ़ने जाता है. स्कूल से घर लौटकर पीड़ित बालक अपनी मां के मोबाइल पर गेम खेलता है. रोजाना वह किशोर के साथ मोबाइल पर लगा रहता था. किशोर ने मोबाइल पर अश्लील वीडियो देखने शुरू किए. बालक को भी वह अश्लील वीडियो दिखाता था. उसे अपने घर के स्नानगृह में ले जाकर अनैसर्गिक कृत्य करता था. लगभग महीने भर से यह चल रहा था. बुधवार को बालक की मां उसे नहलाने बाथरूम में ले गई.

    इसी दौरान बालक अश्लील हरकतें करने लगा. मां ने उसे तमाचे जड़े और पूछताछ की. बच्चे ने पड़ोसी किशोर का नाम बताया और कहा कि वह मोबाइल पर वीडियो दिखाता है. जो कुछ उसके साथ हुआ सब मां को बता दिया. मां ने अपने मोबाइल की जांच की तो होश उड़ गए. बच्चे को अपने साथ पुलिस स्टेशन ले गई. पुलिस ने धारा 377 के तहत मामला दर्ज कर किशोर को हिरासत में ले लिया. उसे बाल न्याय मंडल के समक्ष पेश किया जाएगा.

    पालक रहें सावधान
    इस घटना ने खुद पुलिस को सकते में डाल दिया है. कलमना के थानेदार खुशाल तिजारे ने कहा कि यह मामला बेहद गंभीर है. बच्चों के हाथ में मोबाइल देते समय पालकों को सावधान रहने की जरूरत है. बच्चे मोबाइल और इंटरनेट पर क्या कर रहे हैं, इसका ध्यान रखना पालकों की जिम्मेदारी है. पीड़ित बालक की उम्र महज 7 वर्ष है. दुष्कर्म करने वाला किशोर भी केवल 14 वर्ष का है. इंटरनेट के जितने लाभ हैं उतने नुकसान भी हैं. यह इस घटना में देखने को मिला है. इस तरह की घटनाएं पहले भी सामने आ चुकी हैं. बावजूद इसके लोग इन गंभीर मामलों पर ध्यान नहीं देते.


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145