Published On : Thu, Jan 6th, 2022
nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

बच्चों में कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद दिख सकते हैं ये साइड इफेक्ट

पैरेन्ट्स देखें तो तुरंत दें ध्यान

3 जनवरी 2022 से देश भर में 15 से 18 वर्ष की आयु के बच्चों को कोरोना की वैक्सीन दी जा रही है. राज्य सरकारों ने बच्चों के वैक्सीनेशन की अलग से व्यवस्था की है. जानकारी के मुताबिक, पहले दिन ही 30 लाख बच्चों को कोरोना का टीका लगाया गया, वहीं अबतक एक करोड़ से ज्यादा बच्चों को कोरोना टीका लगाया जा चुका है.

Advertisement

रेडिक्स हॉस्पिटल के डॉक्टर रवि मलिक ने आजतक से बात करते हुए कहा कि “पैरेन्ट्स को इस बात का ख्याल रखना काफी जरूरी है कि वैक्सीन का पहला डोज लेने के बाद आपके बच्चे एकदम से फौलाद के नहीं बन जाएंगे. पहली डोज के 4 वीक बाद सेकेंड डोज लगेगी और उसके भी 4 हफ्ते बाद इम्यूनिटी विकसित होगी और उसके बाद भी पूरी सुरक्षा रखनी काफी जरूरी है.”

Advertisement

बच्चों में वैक्सीनेशन को लेकर काफी उत्साह देखने मिल रहा है और वे वैक्सीन भी लगवा रहे हैं. इसी बीच पैरेन्ट्स को भी बच्चों का ख्याल रखने की जरूरत होगी. क्योंकि जिस तरह 18 और 60 प्लस के एज ग्रुप के लोगों में वैक्सीनेशन के कुछ संभावित साइड इफेक्ट दिखे थे, हो सकता है वो बच्चों में भी नजर आएं, इसलिए घबराने की जरूरत नहीं है. ये हल्के साइड इफेक्ट दिखाते हैं कि वैक्सीन ने अपना काम करना शुरू कर दिया है.

लाल निशान और दर्द (Redness and soreness)
हाथ में जहां पर वैक्सीन लगाई गई है तो बच्चों को उस जगह पर लाल निशान के साथ दर्द महसूस हो सकता है. सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) के मुताबिक, वैक्सीनेशन का लाल निशान और दर्द को कम करने में मदद के लिए टीकाकरण वाले एरिया पर एक ठंडा, नरम कपड़ा रखना सही रहेगा.

वैक्सीनेशन के बाद बेहोशी (Fainting after getting a shot)
किशोरों में किसी भी टीके के बाद बेहोशी आम बात है. सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के मुताबिक, वैक्सीनेशन के बाद लगभग 15 मिनट तक बैठना या लेटना बेहोशी को रोकने में मदद कर सकता है. इसी कारण वैक्सीनेशन के बाद वैक्सीन सेंटर डॉक्टर वैक्सीनेटेड लोगों को थोड़ी देर अपनी देखरेख में रखते हैं.

हल्का बुखार (Mild fever)
स्वास्थ्य विशेषज्ञ और डॉक्टर के मुताबिक, वैक्सीनेशन के बाद बच्चों में हल्का बुखार भी देखने मिल सकता है. 18 और 60 साल से अधिक उम्र के लोगों को हल्का बुखार आने पर टेबलेट लेने की सलाह दी गई थी, लेकिन अगर आपके बच्चे को भी बुखार आया है तो इसके लिए डॉक्टर की सलाह पर उनके द्वारा बताई हुई मेडिसिन का सेवन कर सकते हैं.

थकान और बदन दर्द (Fatigue and body pain)
वैक्सीन लगवाने के बाद बच्चों को थकान और बदन दर्द की समस्या भी हो सकती है. अगर आप भी बच्चों में इस तरह के लक्षण देखते हैं, तो घबराने की जगह CDC के बताए मुताबिक, आराम करने दें और उन्हें अधिक मात्रा में लिक्विड पदार्थ दें. लिक्विड पदार्थ में पैक्ड लिक्विड का सेवन न कराएं.

चक्कर आना (Dizziness)
यह वैक्सीन लगवाने का साइड इफेक्ट नहीं है. वैक्सीनेशन के बाद कुछ बच्चों को चक्कर आ सकते हैं, लेकिन ऐसे में घबराने की जरूरत नहीं है. ऐसा तब होता है जब बच्चे खाली पेट वैक्सीन ले लेते हैं. इसलिए पैरेन्ट्स इस बात पर ध्यान दें कि बच्चे खाली पेट वैक्सीन लगवाने न जाएं. अगर इनके अलावा कोई लक्षण दिखते हैं,जो आपको लगते हैं कि वो माइल्ड नहीं हैं, तो डॉक्टर से संपर्क करें.Live TV

Advertisement

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement