Published On : Mon, Sep 13th, 2021

नवनियुक्त NIT ट्रस्टीयों की चेंबर द्वारा स्वागत

विदर्भ के 13 लाख व्यापारियों की अग्रणी व शीर्ष संस्था नाग विदर्भ चेंबर आॅफ काॅमर्स के कार्यकारिणी सभा में NIT ट्रस्टी मंडल में नवनियुक्त ट्रस्टी व नगरसेवक श्री संजयजी बंगाले व श्री संदीपजी इटकेलवार ने NMRDA की समस्या पर व्यापारियों का मार्गदर्शन किया।

सर्वप्रथम चंेंबर के अध्यक्ष श्री अश्विन मेहाड़िया ने श्री संजयजी बंगाले एवं श्री संदीपजी इटकेलवार का शाॅल, श्रीफल, दुपट्टा व पुष्पगुच्छ देकर उनका स्वागत किया तथा NMRDA की समस्याओं पर उन्हें प्रतिवेदन दिया। उन्होंने कहा कि नागपुर ग्रामीण क्षेत्र से लगे हुये उद्योगों के लिये NMRDA की समस्या एक गंभीर मुद्दा है तथा NMRDA द्वारा जारी किये नियमों के कारण नागपुर ग्रामीण क्षेत्र के उद्योगों एवं उनसे जुड़े हुये लाखों लोगों का रोजगार खतरे में आ गया है।

चेंबर के IPP व NMRDA समिती के संयोजक श्री हेमंत गांधी ने श्री संजयजी बंगाले एवं श्री संदीपजी इटकेलवार को NMRDA समस्या की विस्तृत जानकारी देते हुये बताया कि NMRDA द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में वर्ष 2018 से पहले स्थापित उद्योगों के निर्माण कार्य संबंधी उनके क्षेत्र के सरंपच या तहसीलदार द्वारा दिये गये सर्टिफिकेट को गैर कानूनी बताते हुये पुनः NMRDA से नए सर्टिफिकेट लेने को कहा जा रहा हैं। जबकि NMRDA की स्थापना वर्ष 2018 में हुई है तथा नागपुर से लगे ग्रामीण क्षेत्रों के अधिकांश उद्योग व व्यवसाय सरकारी अनुमति से 25-30 वर्षो संचालित किये जा रहे है। NMRDA से ग्रामीण क्षेत्रों में उद्योगों के भवन निर्माण कार्य के लिये स्थानीय सरपंच या तहसीलदार द्वारा उद्योागों को सर्टिफिकेट प्रदान किये जाते थे। वर्तमान में NMRDA द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों के उद्योगों व व्यवसायों को आगे सुचारू रूप से चलाने के लिये रू. 120-125 प्रति स्के. फुट डेव्हलपमेंट चार्ज भरने को कहा जा रहा हैं जो कि न्यायपूर्ण नहीं है। उन्होंनें श्री संजयजी बंगाले एवं श्री संदीपजी इटकेलवार से जनप्रतिनिधी व NIT ट्रस्टी होने के नाते इस मुद्दे पर विशेष संज्ञान लेने का निवेदन किया।

माननीय नगरसेवक व NIT ट्रस्टी श्री संजयजी बंगाले ने उनके स्वागत-सत्कार के लिये चेंबर का आभार माना तथा चेंबर के निवेदन को ध्यान पूर्वक सुनने के बाद कहा कि चेंबर ने NMRDA के नियमों के कारण ग्रामीण क्षेत्रों के उद्योगों हो रही परेशानियों को लेकर मजबूत प्रतिवदेन बनाना चाहिये तथा प्रतिवेदन की प्रतिलिपी NMRDA के साथ NIT नागपुर के सभी खासदार व आमदार को भी देते उद्योगों का पक्ष मजबूती से रखना चाहिये। वे NMRDA की समस्या को हल कराने के व्यापारियों की हरसंभव मदद करेंगे।

माननीय NIT ट्रस्टी श्री संदीपजी इटकेलवार ने कहा कि वे श्री संजयजी बंगाले के विचार से सहमत है। उन्होंने यह भी कहा कि चेंबर नागपुर के सभी खासदार व आमदार को प्रतिवेदन देने के साथ-साथ महाराष्ट्र माननीय मुख्यमंत्री श्री उद्धवजी ठाकरे तथा महाराष्ट्र के नगर विकास मंत्री श्री एकनाथ शिंदे से मुलाकात कर प्रत्यक्ष रूप से छडत्क्। की समस्याओं हेतु प्रतिवेदन देकर नागपुर के ग्रामीण क्षेत्रों के उद्योगों व व्यवसायों को राहत देने का निवेदन करना चाहिये। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि NMRDA की समस्याओं को हल करने लिये चेंबर का हरसंभव सहयोग करेंगे।

सभा का संचालन सचिव श्री रामअवतार तोतला ने किया तथा आभार प्रदर्शन सहसचिव श्री उमेश पटेल ने किया।

इस अवसर पर चेंबर के सर्वश्री – अध्यक्ष – अश्विन मेहाड़िया, पुर्व अध्यक्ष – गोविंदलालजी सारडा, दिपेन अग्रवाल, IPP हेमंतजी गांधी, उपाध्यक्ष – अर्जुनदास आहुजा, फारूकभाई अकबानी, संजय के. अग्रवाल, सचिव – रामअवतार तोतला, कोषाध्यक्ष – सचिन पुनियानी, सहसचिव – उमेश पटेल, शब्बार शाकिर, स्वप्निल अहिरकर, जनसंपर्क अधिकारी – राजवंतपाल सिंग तुली, तथा चेंबर के – अभय अग्रवाल, चंदुमल अमेसर, दौलत कुंगवानी, मनोज लटुरिया, मनोहरलाल आहुजा, मोहन चोईथानी, नारायण तोष्णीवाल, नटवर पटेल, प्रभाकर देशमुख, प्रताप मोटवानी, राजन अग्रवाल, राजेश ठक्कर, राजकुमार गुप्ता, रामनिवास गर्ग, सलीम अजानी, संतोष काबरा, सौरभ अग्रवाल, सुनिल जग्यासी, सुर्यकांत अग्रवाल, विरेन्द्र चांडक, हुसैन अजानी, मधुर बंग, मोहन गट्टानी, रामखुबचंदानी, विजय केवलरामानी, अॅड. निखिल अग्रवाल, सी.ए. जोतवानी, प्रमोद वालमांडरे, राकेश आहुजा, राकेश गांधी, रमेश लालवानी, रवि किसन पुरिया, सतीष बंग, यश वर्मा, धमेन्द्र आहुजा, आशिष अग्रवाल, नारायणदास राठी, नीरज खख्खर, प्रकाश माहुले, राजेश ढेंगे, संजय गुप्ता, संजय नबिरा, सुभाष अग्रवाल, विजय चांडक, योगेश भोजवानी उपस्थित थे।
उपरोक्त जानकारी प्रेस विज्ञप्ति द्वारा सचिव श्री रामअवतार तोतला ने दी।