Published On : Tue, Apr 30th, 2019

दस नंबर पुलिया के निकट सुविधा केंद्र की शुरुआत

नागपुर शहर में बड़े पैमाने पर गरीबों का वास है. ऐसे लोगों के लिए दो वक्त की रोटी मिलना मुश्किल होता है. ऐसी हालात में उत्तर नागपुर के कामठी रोड के 10 नम्बर पुलिया पर वीनस अस्पताल के नीचे जीतू बंसोड़, संतीश मेश्राम और योगेश खंडारे के प्रयासों से सुविधा केंद्र खोला गया है. जिसमे “आई मला भुख लागली,मला जेवण दे” (अर्थात, ‘माँ मुझे भूख लगी है खाना दे’) के नाम से उपक्रम चलाया जा रहा है. इसके तहत गरीबो के लिए सिर्फ 40 रुपए में स्वादिष्ट भोजन भरपेट दिया जा रहा है और अपंग लोगों को मुफ्त में भरपेट खाना दिया जाएगा.

इस का मुख्य उद्देश्य यह है कि किसी भी व्यक्ति को भीख ना मांगने पड़े और लाचार ना होने पड़े. और शहर तथा राज्य में कोई भी इंसान भूख से ना मरे. गरीब और अपंग जनता से आवाहन किया गया है कि इस सुविधा का लाभ ले,और स्वाभिमान की जिंदगी जिए.

इसका सुविधा केंद्र का उद्घाटन आज भंते नागार्जुन सुरई ससाई इनके हाथों किया गया. इस अवसर पर सागर डबरासे, विलास नितनवरे, जितेंद्र घोडेस्वर, महेश सहारे, ममता सहारे, मंगला लांजेवार, दीपक वासे, हितेश उके शिशुपाल कोल्हटकर,इन्द्रपाल वाघमारे,प्रकाश गजभिये, नितिन सिंगाड़े, शाक्की डोंगरे, अंकुश वासनिक, विक्रांत गजभिये और मनोज बंसोड़ मौजूद थे.